JAVA क्या है? JAVA कहाँ से और कैसे सीखें। पूरी जानकारी हिंदी में#

hello guys aaj ki class me ham sikhne wale h ki java kya hai java kaha se or kaise seeke puri puri jankari hindi me to ham start krte hai ham apni class

ham pahle is class ka ek overview dek lete h to ham padne wale h ki

Aur bhi bahut kuch … toh class mein end tak bane rhe

to let’s start it

दोस्तों जैसा की आप जानते ही हैं, की दुनिया में सभी चीज़ें कितनी तेज़ी से आगे बढ़ रही हैं, और इसी के साथ नयी नयी टेक्नोलॉजी भी आ रही हैं, और वो सभी टेक्नोलॉजी में प्रोगरामिंग या कोडिंग का यूज़ किआ जाता है, उसी तरह से आज हम आपको आज JAVA क्या है(java kya hai) के बारे में पूरी जानकारी देने वाले हैं।

अगर आप एक Web Developer बनना चाहते है तो, या खुद से किसी भी Website या App को Design करना चाहते है, तो सबसे पहले आपको JAVA के बारे में जानकारी होना चाहिए। JAVA सीखना बहुत ही आसान है, आप इसे hamari class के द्वारा online video देखकर भी सिख सकते हैं।

बहुत सारे लोगों का कहना हैं की Web Developer बनने के लिए आपके पास Computer related डिग्री होना चाहिए पर ऐसा कुछ नहीं है अगर आपके पास knowledge है तो डिग्री का कोई महत्व नहीं है क्योंकि सभी Company डिग्री देखकर जॉब नहीं देते हैं, वहां आपका काम देखा जाता है, और आजकल तो एसी बहौत सारी अच्छी कंपनी हैं, जहाँ पर आपको बिना डिग्री के भी जॉब मिल जाएगी।

वैसे तो अगर आप आज यहाँ JAVA क्या है जानने आएं हैं, तो आपको प्रोगरामिंग या कोडिंग के बारे में भी थोड़ा बहौत जानकारी होगी, और अगर नहीं है तो यहाँ निचे दीगयी लिंक से आप जान सकते हैं की coding क्या है।

कोडिंग या प्रोगरामिंग का यूज़ हम सॉफ्टवेयर बनाने में करते हैं, और उसके लिए हमे बहौत सारी प्रोगरामिंग लैंग्वेज की भी जानकारी होनी चाइए तभी हम कोई भी सॉफ्टवेयर, एप्प या कोई वेबसाइट बना सकते हैं।

आपने Java का नाम तो सुना ही होगा। लेकिन आपके मन में ये सवाल तो आया होगा की जावा क्या है (What is Java in Hindi) और इसके साथ Java Programming Language कैसे सीखें. आज के लेख में इसका जवाब देंगे और इससे जुडी हुई सभी जानकारी के बारे में आपको अच्छे से बतायेंगे।

1.JAVA क्या है?

Java एक Programming Language है। Java Programming Language का उपयोग Web Application, Program Or Software को Run करने के लिए किया जाता है। और java एक High Level Programming Language है। यानि आज के समय में जो भी एप्लीकेशन या सॉफ्टवेयर हम और आप इस्तेमाल करते हैं,अधिक्तर उन सभी में जावा का इस्तेमाल किया जाता है।

Java की खोज 1991 में सन माइक्रोसिस्टम्स में काम कर रहे जेम्स गोसलिंग के नेतृत्ववाली टीम ने किया था. James gosling के नेतृत्ववाले इस टीम में पैट्रिक नौघटन, क्रिस व्राथ, एड फ्रैंक और Mike sheridan भी थे।

आपको बता दें की Java दूसरे Programming Language की तुलना में सरल, बेहतर, तेज़ और सुरक्षित प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है। जिसका प्रयोग वर्तमान समय में केवल कंप्यूटर में ही नहीं बल्कि मोबाइल फोन Tablets, Electronic Devices जैसे- TV, Smart Machine आदि में भी किया जाता है।

Java से पहले इस प्रोग्रामिंग भाषा का नाम ओक (OAK) था, परंतु ओक पहले से ही एक पंजीकृत कंपनी थी, इसीलिए इस प्रोग्रामिंग लैंग्वेज का नाम बदलकर जावा रख दिया गया। यह प्रोग्रामिंग लैंग्वेज open source और free है।

2.जावा का इतिहास क्या है? history of java in hindi

जावा(java) एक कंप्यूटर बेस प्रोगम्मिंग लैंग्वेज है, जिसेजेम्स गोसलिंग (James gosling) और उनके साथी सन मिक्रोसिउस्टेमस (सुन microsystems) ने 1991 में विकसित किया था गोसलिंग को जावा का प्रमुख डेवेलपर मन जाता है इस लैंग्वेज को बनाने पीछे उनका एक ही सिद्धांत था “write once run anywhere “ जिसका मतलब था लैंग्वेज को एक ही बार लिखा जाएगा और इसका प्रोयग हर जगह किया जायेगा।

गॉस्लिंग और उनके टीम द्वारा इस लैंग्वेज को बनाने वक्त इसका नाम ओक (oak) रखा था फिर 1995 में बदलकर जावा रख दिया गया जावा के टीम के सदस्यों ग्रीन-टीम भी कहा जाता है. java को टीवी, सेटरबॉक्स, वीसीआर सॉफ्टवेयर बनाने के लिए डेवेलोप किया गया था लेकिन ये इंटरनेट programming के लिए बेस्ट प्रियगंमिंग लैंग्वेज बन गया गोसलिंग ने सबसे पहले इसका नाम ग्रीन टॉक (green-talk) रखा था

See also  मुख्यमंत्री अत्यंत पिछड़ा वर्ग सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना Apply Online: obc/ebc/sc/st

3.Java का इस्तेमाल क्या-क्या बनाने में किआ जाता है?

  • Mobile Applications
  • Desktop GUI Applications
  • Web-based Applications
  • Enterprise Applications
  • Scientific Applications
  • Gaming Applications
  • Big 

Data क्या है? What Is Data In Hindi

Data कैरेक्टर्स का कोई set होता है जिसे किसी उद्देश्य के लिए एकत्रित या फिर translate (अनुवाद) किया जाता है। जैसे कि डेटा को analysis (विश्लेषण) करने के लिए। यह डेटा character (वर्ण) के रूप में कोई भी images, video, text, sound के हो सकता है। यदि डाटा को context संदर्भ में नहीं रखा जाता है तो यह न तो मानव के लिए और न ही किसी कंप्यूटर के लिए कुछ कर सकता है!<br>

  • Distributed Applications
  • Cloud-based Applications

अंतर्निहित सिद्धांत जिसने जावा की सफलता को सक्षम किया है, यह डेवलपर्स और कोडर्स की क्षमता है जो आधुनिक तकनीकी मानकों के प्रति प्रतिस्पर्धी होने के लिए मॉडल को लगातार अपग्रेड करते हैं।

आँकड़े

  • एंटरप्राइज़ डेस्कटॉप के 97% जावा चलाते हैं।
  • अमेरिका में जावा का 89% डेस्कटॉप (या कंप्यूटर) चलता है।
  • दुनिया भर में 9 मिलियन जावा डेवलपर्स हैं।
  • जावा डेवलपर्स के लिए नंबर 1 पसंद है।
  • जावा सबसे अधिक इस्तेमाल किया जाने वाला विकास मंच है।
  • 3 बिलियन मोबाइल फोन जावा चलाते हैं।
  • जावा के साथ ब्लू-रे डिस्क प्लेयर शिप का 100%।
  • वर्तमान में 5 बिलियन से अधिक जावा कार्ड उपयोग में हैं।
  • 125 मिलियन टीवी डिवाइस जावा चलाते हैं।
  • शीर्ष 5 मूल उपकरण निर्माताओं के 5 जहाज जावा एमई।

4.Java को मुख्य रूप से तीन भाग में बांट सकते हैं।

  • Java Micro Edition (J2ME)
  • Java Standard Edition (J2SE)
  • Java Enterprise Edition (J2EE)
  • J2EE (Java 2 Enterprise Edition)

Java आपके Laptops, Computer से लेकर 

Data क्या है? What Is Data In Hindi

Data-centers मे, Game Consoles से लेकर Scientific Supercomputers मे और Cell Phones से लेकर Internet तक सब जगह है।

5.Java कैसे काम करती है? How Java Works In Hindi

जावा के किसी Program को Compile करते है तो Program पूरी तरह से Machine Language में Change नहीं होकर एक Intermediate Language में Change होता है जिसे Java Bitecodes कहते है, इस Code को किसी भी Operating System व किसी भी Processor पर चलाया जा सकता है।

जावा Program की compilation केवल एक ही बार होती है लेकिन जब भी Java Program चलाया जाता है तो उस Program का Interpretation होता है, Java Bitecodes को Java Virtual Machine (Jvm) का Machine Code कह सकते हैं।

वैसे तो Java को digital devices जैसे set-top boxes और television इत्यादि के लिये develop किया गया था. परन्तु इसकी बेहतरीन विशेषताओं के कारण जल्द ही इसे Internet programming और WWW-based applications के लिये भी उसे किया जाने लगा।

6.क्यों जावा एक लोकप्रिय प्रोग्रामिंग भाषा है?

जावा को सबसे अच्छी प्रोग्रामिंग भाषाओं में से एक कहा जाता है जो हमारे पास है। तो, क्यों जावा? खैर, पिछले कुछ वर्षों में, जावा ने हमारे सामने अभूतपूर्व सुविधाओं को प्रस्तुत करके इसकी कीमत साबित की है।

Java को Platform Independent Language इसलिए कहा गया है क्योंकि इसका कोड किसी एक OS पर नहीं बल्कि किसी भी OS पर Run किया जा सकता है। जैसे Window, Linux, Mac, Android सभी Operating System पर Java Code Run किया जा सकता है।इसका short form है JVM. यह एक Virtual Computer है जो सारे Java Program को run करता है. जब एक Program लिखा जाता है उसी को Source Code बोला जाता है. इसी Source Code को Java Compiler की मदद से Compile करके Byte Code Generate किया जाता है. इस Byte Code को Execute करने के लिए JVM को इस्तमाल किया जाता है. JVM के अंदर JAVA Interpreter रहता है वही program को Run करता है.एक बात जानले जितने भी Computer java program को run करते हैं उन सभी में पहले से ही JVM Installed रहता है. इसी लिए ये Code सारे Computer में चलता है. इसी वजह से java एक Platform Independent Language है. दुसरे जितने भी Programming Languages हैं उनके Compiler जो code produce करते हैं. वो एक ही sysytem के लिए Generate करते हैं और एक ही System में Run होते हैं. लेकिन java compiler जो byte Code generate करता है वह JVM के लिए होता है.
JVM सारे System में रहने की वजह से यह प्रोग्राम हर Computer में चलता है. यह Virtual Machine code को operating system में चलने लायक बनानता है.

7.Berief History Of Java in Hindi

इसका इतिहास बड़ा ही मजेदार है इसलिए आपको ये जान लेना अति आवस्यकत है. इसकी सुरवात Green Team से हुई थी. Java team के members को Green Team बोला जाता था. इस team का बस एक ही मकसद था एक एसी Language बनाई जाए जिसे Electronics Devices जैसे Set-top Boxes, Television को Program किया जा सके . उस दौर में यह एक Advance Concept था. लेकिन यह आगे चल के Internet के लिए ज्यादा मददगार साबित हुआ. कुछ समय बाद यह NetScape के साथ यह Technology मिल गई.

8.इसका नाम Oak ही क्यूँ रखा गया

Oak को Strength का Symbol भी बोला जाता है. Oak Weasten Countries (USA, France, Germany, Romania) का National Tree है. 1995 में Oak नाम को बदलके Java रखा गया, क्यूंकि Oak उस समय पहले से ही Oak Technologies Company का Trade mark था. अब अगला सवाल है आया, इसका नाम Java ही क्यूँ कोई और नाम क्यूँ नहीं.

Ummeed h ki class aapko pasand aa rahi hogi to bane rahiye class me our sikte rahiye to jante h

9.इसका नाम JAVA ही क्यूँ रखा गया

जब Green Team एक जुट होक Language नाम का चयन कर रही थी. उन सभी टीम सदस्यों ने कुछ नाम के Suggestion दिए जैसे Dynamic, Revolutionary, Silk, Jiot, DNA . वो चहाते थे की कोई एसा नाम जो उनकी Technology को Represent करें. कोई एसा नाम जो Revolutionary हो, Dynamic, Lively, Cool, Unique हो. James Gosling के मुताबिक आखिर में दो नाम के Suggestion थे एक Silk और दूसरा JAVA. Green Team को JAVA नाम काफी Unique लगा आखिर में यही नाम रखा गया.

See also  Kifayati LED Bulb Yojana Apply Online 2021 Form pdf! Download

Java Indonasia का एक Island का नाम था. जहाँ सबसे पहले Coffee Produce हुआ था. Sun MicroSystem में इसको Develop किया गया था. अभी ये Oracle Corporation का एक Part है. JDK 1.0 को January 1996 में Release किया गया था.

10.Standalone Application

इसका मतलब है desktop application और Mobile application. ये वो sw होते हैं जिनको हम हर रोज इस्तेमाल करते हैं. उदहारण:- Media Player, Antivirus, MS-Office, Browsers. AWT और SWING की मदद से Standalone application आसानी से बनाए जाते हैं.

11.Enterprise Application

बहुत सारे Enterprise Application बनाने में java ही एक मात्र Programming है. क्यूंकि ये High Level Security Provide करता है. banking software, Industry application, accounting application इन सभी तरह के Enterprise Application बनाने के लिए EJB ( Enterprise Java Bean) का इस्तेमाल किया जाता है.

12.Mobile Application

इसके बारे तो आप जान ते ही होंगे की mobile में जितने भी game और Application Run करते हो वो सभी इस language से बनाया जाता है. Google Playstore में जितने भी app होते हैं वो सभी java प्रोग्रामिंग से develop किए जाते हैं.

13.Characteristics

Object Oriented –java में सब कुछ Object Oriented है. Object Model की मदद से बड़े लम्बे Code वाले app/sw आसानी से बना सकते हैं.
Platform independent – यह एक खसा language है जिसमे लिखे गए software सारे Operating System में चल सकते हैं. जिसको Cross Platform भी बोला जाता है. लेकिन अगर बात करें C और C++ की तो ये दोनों ही Platform Dependent Language है.

  • Simple – इस को आप आसानी से समझ सकते हैं और आसानी से लिख भी सकते हैं, यही इसकी Quality है. इसिलए इसको Simple बोला जाता है. Oops के Basic Concept अगर समझ गए हैं तो आपको java में Master बनने से आपको कोई नहीं रोक सकता है.
  • Secure – इस के Security Feature की वजह से यह बहुत प्रचलित है. Virus Free, Tamper Free System software Develop कर सकते हैं. Authentication Technique में Public Key Encryption का इस्तमाल किया जाता है.
  • Architectural-neutral – Compiler द्वारा जो code generate किया जाता है वह byte code होता है. जिस code को आप कहीं भी, किसी भी Operating system और Processor में Run कर सकते हो. इसलिए इसको Architectural Neutral बताया जा रहा है. इसके लिए JVM का होना अनिवार्य है जो की सारे System में होते है.
  • Portable – Platform Independent की वजह से यह Portable भी है. क्यूंकि java और Compiler दोनों को ANSI C में लिखा गया है.
  • Robust – इसमें लिखे गए सारे Program मजबूत होते हैं. मजबूत मतलब लोहे जैसे मजूबत नहीं. जब PROGRAM को RUN किया जाता है तो इसमें कोई Error नहीं रहता है. क्यूंकि Compile Time और Run time Error checking mechanism का इस्तमाल होता है.
  • Multi-threaded – इसी features की वजह से आप ऐसे program लिख सकते हो जो multiple task को perform कर सकते हो. मतलब एक Application होगा और उसी में आप सारे Task कर सकते हो.
    High Performance – Just in Time Compilers की वजह से java का Performance काफी अच्छा है.
  • Distributed – इसी nature की वजह से Internet के Distributed Environment में अपना रुतबा कायम है.
  • Dynamic – यह Dynamic Programming है. कोई भी Environment को ये adapt कर सकती है.

14.Different Editions of Java Technology हिंदी में

Java SE –Server Applications, Desktop Application और applets program बनाने के लिए Java SE या Java Standard Edition आपको वो Tools और API Provide करता है. java SE की मदद से जितने भी program लिखे जाते हैं वो सभी Operating System में चलते हैं. जैसे Linux, Windows, Mac.

JEE – (java Enterprise Edition) web application Services, Component model, Enterprise Class Service Oriented Architecture (SOA) के लिए मददगार है.

JME – Java Micro Edition or JME यह APIs का Collection है. इनका इस्तमाल Mobile Phones application, PDAs, TV Set-Top Box software, Gaming Program Develop करने के लिए किया जाता है. micro edition platform का Interface काफी User Friendly है. इसके साथ साथ भोरोसे लायक है. Security Model अलग अलग तरह के Built in Network की सुविधा देता है जिसेमें आप java Based Application इसमें चला सकते हो..

Computer में Java चलाने के लिए क्या चाहिए

  1. सबसे पहले आपको Java software development kit को इस link से http://java.sun.com/ Download करें
  2. Website में जो भी Instruction दिए गए हैं उनको follow करें.

Java Program लिखने के लिए Java Editors

आपको Java program को लिखने के लिए Editors की जरुरत पड़ेगी और आप निचे दिए गए Editers का इस्तेमाल कर सकते हो

  1. Notepad ++ यह एक Editor है जिसमें आप आसानी से Code लिख सकते हैं. Error धुंडने में और Missing Bracket धुंडने में भी आसानी होती है.
  2. Netbeans – यह Java IDE एक open source और free है. जिसको आप इस लिंक से Download कर सकते हो http://www.netbeans.org/index.html
  3. Eclipse – यह भी java IDE है जिसको eclipse open source community ने develop किया है. आप इस link से Download करें http://www.eclipse.org

Java कैसे सीखे

Programming के Demand के मुताबिक अगर आपको Programming के Fundamentals पता हैं तो आपको java सीखना चाहिए. क्यूंकि आप Software Develop करके और play Store में app बनाके आप लाखों में Income कर सकते हो. इसी लिए मेरी सलाह है आप कुछ Tutorial Sites से या YouTube से Video Series देख के आसानी से सिख सकते हो. निचे कुछ channel के नाम और Websites की list दी गई हैं जहाँ से आप Java सिख सकते हो.

See also  Linkedin kya hai ? पूरी जानकारी | All about linkedin app in hindi #gautam bhiya done

ये जानकारी खास Students के लिए ज्यादा उपयोगी है. आप आज के लेख में सीखे java क्या है (What is java in hindi). आपके इन सवालों के जवाब भी मिले इस Programming Language का Use क्या है. History मतलब java का इतिहास भी आप जान ही गए होंगे. सबसे जरुरी सवाल जो आप लोग हमेसा से पूछते हो Java कैसे सीखें और Characteristics Features of java के जो खास Exam में आते हैं. java Language से कितने प्रकार के application आप develop कर सकते हैं. सभी का ज्ञान आपको मिल गया hai

उमीद है ये लेख आपको पसंद आया होगा, कैसा लगा आप जरुर निचे बताइए. अगर अभी बी कोई सवाल आप पूछना चाहते हो तो निचे Comment Box में जरुर लिखे. कोई सुझाव देना चाहते हो तो जरुर दीजिये जिस्से हम आपके लिए कुछ नया कर सके. हमारे Blog को अभी तक अगर आप Subscribe नहीं किये हैं तो जरुर Subscribe करें. चलो बनायें Digital India जय हिंद, जय भारत, धन्यबाद

Java वर्शन जो अभी तक रिलीज हुए।

  • JDK Alpha and Beta (1995)
  • JDK 1.0 (January 23, 1996)
  • JDK 1.1 (February 19, 1997)
  • J2SE 1.2 (December 8, 1998)
  • J2SE 1.3 (May 8, 2000)
  • J2SE 1.4 (February 6, 2002)
  • J2SE 5.0 (September 30, 2004)
  • Java SE 6 (December 11, 2006)
  • Java SE 7 (July 28, 2011)
  • Java SE 8 (March 18, 2014)
  • Java SE 9 (September 21, 2017)
  • Java SE 10 (March, 20, 2018)
  • Java SE 11 (LTS) (September 2018)
  • Java SE 12 (March 2019)
  • Java SE 13 (September 2019)
  • Java SE 14 (March 2020)
  • Java SE 15 (September 2020)
  • Java SE 16 (March 2021)

JAVA कहाँ से और कैसे सीखें? How to learn JAVA Online

JAVA क्या है? JAVA कहाँ से और कैसे सीखें।

अगर आपको JAVA सीखना है, और और इसकी मदद से काम करना है, तो आप ऑनलाइन भी JAVA पढ़ सकते हैं, आपको ऑनलाइन बहौत सारी एसी वेबसाइट और YouTube channel मिल जायेंगे जहाँ से आपको फ्री में JAVA सीखने का मौका मिलेगा। आइए आपको कुछ एसी ही वेबसाइट की एक लिस्ट बताते हैं।

Javatpoint.com FREE
tutorialspoint.com FREE
learnjavaonline.org FREE
codecademy.com FREE/PAID
Udemy.com FREE/PAID

इन सब के अलावा अगर आप YouTube पर थोड़ा रिसर्च करेंगे, तो आपको बहौत सारी अच्छी क्लास मिल जायेंगी, जहाँ पर आपको फ्री में html के बारे में सब कुछ जानने को मिल जाएगा, और साथ ही आपको इसके बारे में बहौत कुछ सीखने को भी मिलेगा।

तो दोस्तों आज हमने आपको इस पोस्ट में बताया की JAVA क्या है? और आप इसे कैसे सीख सकते हैं, हम तो आपको यही बोलेंगे की आज के समय में आपको भी कोडिंग के बारे में जानकारी होनी चाइए, और साथ ही बनना भी चाइए।

क्यू की आने वाले समय में इसकी सबसे ज्यादा जरूरत होने वाली है, सभी चीज़ें अब ऑनलाइन और इलेक्ट्रॉनिक की मदद से की जा रही है, और साथ ही सभी चीज़ें स्मार्ट भी होगयी हैं।

features of java in hindi:-

जावा में निम्नलिखित features होते है:-

1:-Object-Oriented:-जावा एक pure ऑब्जेक्ट ओरिएंटेड प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है अर्थात इसमें procedures का प्रयोग नही किया जाता है बल्कि यह सिर्फ objects पर आधारित लैंग्वेज है।

2:-Platform Independent:-जावा प्लेटफार्म इंडिपेंडेंट लैंग्वेज है अर्थात यह हर किसी प्लेटफार्म में run हो सकती है। यह feature और किसी अन्य लैंग्वेज को इतना suit नही करता जितना कि जावा को करता है।

 

जावा platform independent लैंग्वेज इसलिए है क्योंकि जावा में source कोड को इंटरमीडिएट कोड में compile किया जाता है जिसे हम byte कोड कहते है और वह प्रत्येक सिस्टम जिसमें JVM होता है वह byte code को interpret कर लेता है।

image

3:-Secure:- जावा का तीसरा बड़ा feature यह है कि यह एक सुरक्षित लैंग्वेज है। जावा सबसे अधिक secure है क्योंकि जावा प्रोग्राम java runtime environment में run होते है। जावा public key encryption का प्रयोग करता है तथा इंटरनेट में जावा के applications सुरक्षित encrypted रूप में access होते है।

4:-Compiled तथा Interpreted:-जावा में source कोड को byte कोड में compiled किया जाता है तथा फिर उसे JVM के द्वारा machine कोड में interpreted किया जाता है।

 

image

5:-Simple, Small तथा Familiar:-जावा एक आसान लैंग्वेज है क्योंकि इसमें c++ की तरह ही syntax होते है जो कि आसानी से सीखे जा सकते है।
                           जावा में operator  overloading(ऑपरेटर ओवरलोडिंग) तथा header files का प्रयोग नही किया जाता है जिससे यह और भी आसान हो जाती है।

6:-Portable:-जावा एक portable लैंग्वेज है क्योंकि byte कोड हर किसी सिस्टम में run हो जाता है इसलिए यह एक portable लैंग्वेज है; इसे आसानी से प्राप्त किया जा सकता है।

7:-Robust:-जावा में garbage collection अपने आप हो जाता है इसमें मेमोरी एलोकेशन बहुत बढ़िया है।
          जावा में जो भी errors आती है उन्हें आसानी से हल किया जा सकता है। इन्ही सभी कारणों से जावा Robust लैंग्वेज है।

8:-Distributed:-जावा एक distributed लैंग्वेज है जिसका अर्थ है कि जावा प्रोग्राम इंटरनेट में run करने के लिए डिज़ाइन किये जाते है तथा जावा में HTTP तथा FTP प्रोटोकॉल का प्रयोग किया जाता है जिससे कि आसानी से इंटरनेट में एक्सेस किया जा सकें।

 

9:-Multi threaded:- जावा में multi threading का प्रयोग किया जाता है अर्थात जावा में प्रोग्राम को छोटे sub program में divide किया जाता है तथा इन sub programs को क्रमानुसार execute किया जाता है।

ummeed hai aapko hamari iss class mein jo bhi bataya gaya h, wo poori tarah se samjh mein aaya hoga…. Yadi haan toh hamari aage aane wali classes ko bhi join kare thank you

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *