Facebook Marketing Kya Hai? और इसका इस्तेमाल कैसे करते है?

Table of Contents

ham pahle is class ka ek overview dek lete h to ham padne wale h ki

1.Facebook Marketing Kya Hai? और इसका इस्तेमाल कैसे करते है?
2.फेसबुक मार्केटिंग के फायदे  (Advantages of Facebook Marketing)
3.(Brand Awareness increase करना और new customers को educate करने के लिए extremely useful होता है)
4.Challenges Faced in फेसबुक Marketing
5.Awareness through Facebook marketing
6.Reach Using Facebook Advertising
7.Website Traffic By Facebook Advertising
8.Lead Generation Through Facebook Advertising
9.What is Organic Reach?
(आर्गेनिक रीच क्या है ?)
10.ho see your content ?
( फेसबुक पर आपके कंटेंट को कौन देखता है )
11.How to increase Organic Reach?
( आर्गेनिक रीच को कैसे बढ़ाया जाए )
12.. कस्टम शोर्ट URL और Username बनाएँ

Aur bhi bahut kuch … toh class mein end tak bane rhe

to let’s start it

Social media marketing (FacebookInstagramLinkedin इत्यादि ) businesses के लिए हमेशा ही बहुत beneficial होता है चाहे वह छोटा business हो या बड़ा. 2004 में अपने launch के बाद से FB को लोगों ने बहुत positively embrace किया है. और यह बात बहुत से businesses को Facebook marketing के through अपने vast proportion of customers को attract करने की opportunity देती है. मगर Facebook ads के multiple advantages के साथ कई सारे challenges भी होते हैं. आज हम यहां उन्ही FB marketing के advantages और challenges के बारे में जानेंगे.

फेसबुक मार्केटिंग के फायदे  (Advantages of Facebook Marketing)

 The number of users on Facebook, especially in India is very high:

(FB पर number of users, especially India में काफी ज्यादा है)

Undoubtedly, FB 2.41 billion user account के साथ social media में सबसे बड़ा player है. और इनमे से 241 million तो सिर्फ India से ही है, जो हमे इसका largest user base बनाता है. यह platform आपको pages, groups, और ads के form में marketing के लिए multiple platforms देता है. इन सबमें से FB page एक individual या एक business को represent करने का एक most popular तरीका है.

Average time spent on Facebook is high:

(लोगों का फेसबुक पर average time spent high होता है)

One of the major advantages of FB है की आज के time पर 80% internet users इसे use करते है. यहां तक कि 65% of 65+ years adults भी. 80% teens भी सुबह उठते ही सबसे पहले अपना FB feed check करते हैं. और 96% users इसे mobile पर access करते हैं. अब इन सभी information के कारण आप जानते हैं कि आपकी maximum audience mobile users है तो आप अपने content को उसी according curate कर सकते हैं और उस तरह आपका आपके customers के attention को gain करने का chances भी काफी बढ़ जाएगा.

Extremely useful in increasing brand awareness and educating new customers:

(Brand Awareness increase करना और new customers को educate करने के लिए extremely useful होता है)

 Facebook ads आपके brand awareness को significantly build करेगा. ये एक बहुत ही अच्छा तरीका होता है लोगों को यह बताने का कि आपके पास offer करने को क्या है. लोग जितना ही ज्यादा आपके brand से familiar होंगे उतने ही ज्यादा chances हैं कि decision लेने के वक्त वह आपके product purchase करेंगे. Facebook advertising आपके customer attribution में भी बहुत help करती है. और यह बहुत जरूरी भी है क्योंकि जितनी बार आपके business के साथ आपकी audience interact करेगी, उनके convert होने की chances भी उतना ही ज्यादा बढ़ेंगे.

Can be used for engaging and targeting potential customers:

(इसे potential customers को target और engage करने के लिए use किया जा सकता है)

Facebook ads के पास एक unique facility होती है जो आपको demographics और interest के basis पर potential customers को target करना allow करती है. यह आपको उन customer को भी फिर से target करने के लिए enable करती है जिन्होंने पहले आपके site को visit किया था, ताकि आप अपने target audience को effectively narrow कर सकें. Facebook advertising आपके website traffic को boost कर सकता है और ये कई मायनों में बाकी sources से ज्यादा beneficial है.

Advertisement on FB is highly targeted, cheap and fast, and results are easily measurable:

(फेसबुक पर advertisement highly targeted, cheap और fast होते हैं और इनके results भी easily measurable होते हैं)

Facebook advertising एक most targeted form of advertising है. आप लोगों में age, interest, behavior और location के basis पर अपने business को advertise कर सकते हैं. इसके साथ साथ Facebook advertising काफी fast होती है, और यह immediate results drive करती है. आप एक ही दिन में एक साथ thousands लोगों तक reach कर सकते हैं, जिसकी वजह से यह one of the cheapest form of advertisement भी है.

क्या आपको भी Facebook Marketing में interest है ? तो enroll कीजिये हमारे Facebook Marketing Course में और पाईये 90% तक की Scholarship.

Challenges Faced in फेसबुक Marketing

Challenges Faced in Facebook Marketing

Technological requirement/skill requirement (Facebook marketing can be very complicated):

एक Facebook marketing challenge जो कई business persons को frustrate करता है वह है lack of technological know-how में gap. ऐसे कई CEOs हैं जिन्होंने अपना career और business major technological challenges आने से काफी पहले ही start किया था जिसके कारण उन्हें इसके बारे में सही knowledge नहीं है या कई ऐसे हैं जिनमें technological knowledge की कमी है. ऐसे में जब वह अपने colleagues, industry के उनके friends या/और analyst report को consult करते हैं तो उन्हें different sources से varied response और mostly incomplete knowledge ही मिलती है.

Still, many people are not on FB or are not very active on it:

(अभी भी बहुत से ऐसे लोग हैं जो या तो फेसबुक पर है ही नहीं या फिर वह इस पर ज्यादा active नहीं रहते हैं)

You know it’s a fact की दुनिया की around half population FB पर present ही नहीं है. India में भी यह number approx 1 billion लोग हैं. कई लोग हैं जिनको इस पर account बनाने के बाद अपने profile को update रखना पसंद नहीं, कई सारे ऐसे भी हैं जिनके लिए इस पर account बनाना ही necessary नहीं लगता. इन सबके अलावा world की एक significant proportion है जिनके पास अभी तक internet कि facility नहीं पहुंच सकी है. इन सब बातों के कारण हो सकता है आपके B2B marketing और sales campaign को Facebook marketing benefit ना करे.

Creation of goals and strategy:

(Goals और strategy create करना)

Goals और strategy यह तय करती है कि आप अपने brand को अपने लिए सही audience को product showcase करने की opportunity दें. ये जरूर हो सकता है कि आपको पता हो की आप क्या और क्यों accomplish करना चाहते हैं, मगर बिना किसी strategy के आपके पास कोई specific plan या कहें roadmap के बिना आपका आपके goals को achieve करना बेहद मुश्किल हो जाता है.

Creating regular and diversified content:

(Regular और diversified content create करना)

Facebook marketing में content एक बहुत ही important role play करता है. इससे फर्क नहीं पड़ता है कि आप किस तरह का ad format choose करते हैं, मगर marketing के लिए content बहुत ही essential है. यह text-based, visual or audio भी हो सकता है मगर जरूरी यह है कि आपको regular और diversified होना चाहिए. और इससे भी ज्यादा जरूरी है आपके content को आपकी brand values और Facebook marketing goals के साथ inlined होना चाहिए. अगर आपके पास content नहीं है तो आपके पास इस पर amplify करने को कुछ भी नहीं है और लोग आपके sales message और special offers से बहुत जल्दी ही tired हो जाएंगे.

Gaining customer attention:

(Customers का attention gain करना)

FB पर कई different type के post होते है. कुछ ऐसे होते है जो audience को annoy कर सकते है, और कुछ होते है जो उन्हें engage कर सकते है. कुछ तो हो सकता है audience तक पहुंचे भी नहीं क्योंकि इसने अपने news feed में बहुत से changes लाए है. और इतना ही नहीं, FB पर thousands of brands है जो users के attention के लिए compete कर रहे है. इसकी वजह से बहुत noise create होता है जिसकी वजह से आपके business का stand out कर पाना और भी मुश्किल हो जाता है चाहे आपका content आपके audience कि feed में organically appear हो रहा हो या paid capacity में.

यहाँ हमने आपको FB के फायदों(advantages) के साथ ही उनसे जुडी चुनौतियों (challenges) के बारे में भी बताया। लेकिन एक बात तो साफ़ है की Facebook Marketing के लिए बेहद जरूरी है और ख़ास कर के छोटे व्यवसाय(small businesses) के लिए । ये इन small businesses को बड़े Brands से मुकाबला कर अपनी Market बनाने का मौका देता है।

Top 7 Facebook Ads Marketing Objectives For Your Business in Hindi

आपको भी Facebook advertising के लिए marketing objective decide करना confusing लगता है? आप समझ नहीं पाते कि Facebook advertising का क्या use है? Facebook के help से आप अपने business के लिए marketing कैसे कर सकते हैं? अगर हां, तो आप अकेले नहीं है. Facebook पे  Marketing करते हुए Challenges का आना बड़ी ही common बात है. Most of the people इस जगह stumble करते हैं.

” The aim of marketing is to know & understand the customer so well the product or service with him & sells itself. “

जब आप अपने business के लिए एक Facebook ad campaign objective choose करते हैं तब आप FB  को बता रहे होते हैं कि आप क्या result देखना चाहते हैं, या आप क्या चाहते हैं कि आपके users कौन से actions ले. यह सब इस चीज को impact करेगा कि आप किन actions को optimize करना चाहते हैं, आप किस चीज के लिए pay करेंगे, और यहां तक कि किस तरह के creative options आपके लिए available है. 

इस article में हम 7 major Facebook ad campaign objectives  for our business के बारे में जानेंगे. और साथ ही सारे objectives को clear explanations के साथ break down करेंगे ताकि आप अपने Facebook marketing strategy को सही तरीके से plan कर सके. So let’s get started.

.

Awareness through Facebook marketing

Facebook Brand Awareness

Facebook marketing का ये objective users को आपके product या service के बारे में knowledge देकर interest generate करने का काम करता है. इस objective के help से आपके brand को उन लोगों तक पहुंचाया जाता है जो आपके potential customer तो हो सकते हैं मगर अभी आपके brand और products से जुड़ी कोई जानकारी नहीं रखते हैं. इस objective के साथ, आपके पास करने को दो options होते हैं-

I) Local awareness This objective of Facebook marketing is for small business generally. ये आप उन potential customers को reach करने के लिए use करते हैं जो आपके business के नजदीक available हो. इसकी काफी limited targeting होते हैं (जैसे age, gender, और radius from your business)

II) Brand awareness  – यह उन लोगों को reach करने के लिए होता है जिनके आपके adverts पर ध्यान देने के ज्यादा chances होते हैं. इस objective का बेहतर result relatively larger businesses के लिए ज्यादा positive रहता है क्योंकि वो pure branding only campaigns run करना afford कर सकते हैं.

Reach Using Facebook Advertising

This objective of Facebook advertising for your business maximizes number of people जो आपके ads को देखते हैं और साथ ही यह number of times को भी maximize करता है जब लोग आपके ads को देखें. Plain और simple words में यह आपके digital marketing के exposure को maximize करने की कोशिश करता है. Unlike other Facebook advertising campaigns, आप इसकी frequency को control कर सकते हैं. इसे frequency capping कहते हैं. यह objective आपके लिए particularly तब ज्यादा useful होगी जब आपके पास smaller audience size हो, और आप चाहते हो कि सभी आपके ads को देखें. क्योंकि हो सकता है यह आपके brand को exposure देने का एक cheap way हो, but इसे quantify करना बहुत मुश्किल होता है- especially तब जब आपका sales cycle इतना लंबा हो कि Facebook conversions को accurately देख ही ना सके

Facebook Consideration Advertising

Facebook Consideration Hindi

ये objective आपकी target audience  को आपके business के बारे में सोचने पर और उससे related information जुटाने के लिए encourage करता है. यह आपके potential customers को आपके product और services खरीदने के लिए influence करता है.

Website Traffic By Facebook Advertising

Website Traffic By Facebook Hindi

इस objective को अपने Facebook campaign का part बना कर आप clicks को use करते हैं ताकि आप लोगों को अपने website की तरफ send कर सकें. यह आपको अपने prospects को educate करने के साथ-साथ time पर remarketing list build करने में help करता है. Traffic objective के साथ आपके पास different bidding options होते हैं. यह एक CPM model होता है, और even though आपका target link clicks होता है, मगर आपके पास इसको “pay per link click” में change करने का option भी होता है. आप alternatively इन options पर भी bid कर सकते हैं-

  1. Landing page,
  2. Impressions, और
  3. Daily unique reach

Facebook Post Engagement:

facebook post engegement hindi

Post engagement objective का main goal होता है to drive engagement. FB आपके audience में उन लोगों को ही आपके ads दिखाएगा जो most likely आपसे engage करेंगे. Engagement campaign आपको serve कर सकता है as:

  1. Remarketing pool बनाने के cheap way में.
  2. Social proof build करने के way में.

इस objective को आप post engagement, impressions, या reach को optimize करने के लिए भी use कर सकते हैं. इसकी help से आप ज्यादा बेहतर तरीके से एक larger set of audience को reach कर पाएंगे. 

Lead Generation Through Facebook Advertising

Facebook Lead Generation Hindi

ये objective आपके business के लिए एक versatile Facebook advertising strategy prove हो सकता है. इस objective को use करके आप एक form create कर सकते हैं जो लोगों से information collect करेगा जैसे newsletters के लिए sign-ups, price estimate, follow up calls, etc. आप 3 ways में इसको approach कर सकते हैं:

  1. Top-funnel (Low intent audience): ये आप awareness level content के लिए downloads drive करने के लिए use करेंगे, और वह भी email list साथ में build करते हुए.
  2. Mid-funnel: Mid-funnel content के exchange में downloads drive करने के लिए.

III) Low-funnel (High intent audience): इसे आप requests के pricing/quote के लिए, coupons drive करने के लिए, या promotions को access करवाने के लिए use कर सकते हैं.

क्या आपको भी Facebook Marketing में interest है ? तो enroll कीजिये हमारे Facebook Marketing Course में और पाईये 90% तक की Scholarship.

Conversions Through Facebook Ads

Facebook Conversion Hindi

ये objective almost हर company या brand के Facebook marketing strategy का part होती है. और इसलिए यह most widely used objective है. इसका काम होता है website पर conversions को promote करना इसे आप तब अपने Facebook advertising strategy का part बना सकते हैं जब आप लोगों को अपने website की तरफ drive करना चाहते हो ताकि वह specific actions ले जैसे webinar के लिए signup करना, guide download करना या कोई product purchase करना. यह सब से बेहतर तरीके से तब काम करता है जब:

  1. जब audience low-funnel हो और convert होने को तैयार हो (Eg.- Remarketing).
  2. जब audience high-funnel हो मगर product या service को थोड़े से consideration की जरूरत हो.
  3. जब audience high-funnel हो और जो conversion optimize किया जा रहा हो वह भी high-funnel हो.

Conversion objectives को data की जरूरत पड़ती है ताकि वह बेहतर तरीके से खुद को optimize कर सकें. तो कुछ बातें हैं जिनका आप को ध्यान रखना चाहिए-

  1.  Audiences को बहुत ज्यादा भी segment नहीं करें.
  2. बहुत ज्यादा lofty conversion type set ना करें.

Facebook Organic Reach क्या है? और इसे कैसे बढ़ाया (Increase) जाए ?

Facebook पर Organic Reach increase करने का question अक्सर लोगों को और ख़ास कर के companies को परेशान करता रहा है. Facebook पर लोगों तक पहुँचना हर बार easy नहीं होता. ये companies के लिए कई बार काफी frustrating हो जाता है की वो काफी efforts लगा के भी लोगों तक अपना content पहुंचाने में सफल नहीं हो पाते. ऐसा क्यों होता है की कई बार कोई company बोहोत सारा पैसा लगा के भी फेसबुक पे लोगो को जोड़ने में और engage करने में असफल होती हैं और दूसरी तरफ एक company बिना एक भी पैसा खर्च करे न केवल नए लोगो को attract करने में कामयाब होती है इसके साथ ही उनका content भी audiences के बीच पॉपुलर होता है. यहाँ हम इसी सवाल का जवाब देने की कोशिश करेंगे.

What is Organic Reach?
(आर्गेनिक रीच क्या है ?)

Organic Reach On Facebook

आपने marketing में page की organic-reach की importance के बारे में तो सुना ही होगा. तो हम बात करेंगे की इस से related हम क्या कर सकते हैं की better results दिखाई दें.
इसका मतलब है की कितने लोगों तक आप free में पहुँच सकते हैं अपने page पे कुछ post करके. इसका opposite होता है paid reach,जो की नाम में ही clear है की हम पैसे देके advertisement के through अपने कंटेंट की पहुँच को increase कर रहे हैं.

Who see your content ?
( फेसबुक पर आपके कंटेंट को कौन देखता है )

जिन लोगों ने आपको Like या follow किया हुआ वो उनको आपकी posts अपनी News feed में दिखती हैं या फिर कोई आपकी Profile खोल के आपकी recent posts देख सकता है .
असल में जिन लोगों ने आपके पेज को follow या like करा हुआ है वो आपकी सारी posts को अपनी news feed में नहीं देखते. उनको probably आप जो कुछ भी publish कर रहे है उसका एक fraction ही दिखाई देता है. ये इसलिए है क्यूंकि Facebook अपने खुदके complex formulas उसे करता है, FB का खुद का algorithm है जो ये decide करता है की किसको कोनसा post show करना है, जो की based होता है उस user के अलग अलग contents के interactions पर. ये इसकी algorithm है .

How to measure Organic Reach?
(आर्गेनिक रीच को कैसे माप सकते हैं ?)

इसे improve करने के बारे में understand करने के लिए आपको पहले ये understand करना पड़ेगा की इसको measure कैसे करें. इसके लिखे आप Insights tab की help ले सकते हैं, जो आपके page के top में होता है उसमें दिए गए data को study करें. Page insights paid और unpaid reach को separate करके data देता है. जिससे के आप unpaid posts की strategy एक effective तरीके से manage कर सकें. इसके लिए आप कुछ important data को study करें.

तो Insights में Reach category के under आप देखेंगे की page ने unpaid reach में high spike दिया है जिस्का मतलब है की बिना कोई पैसे दिए आपकी पहुँच increase हुई है.. Basically कब आपकी पहुँच बिना की paise दिए सबसे ज्यादा थी. फिर दूसरा आप Insights के under Posts category में जाके देख सकते हैं किस post से ये spike हुई है. आपके अपने कंटेंट में, जो की most unpaid reach वाले posts है, उसको study करना चाहिए. identify करने के लिए की ये इतने लोगों तक कैसे पहुंच पाया.
ये आपके काफी inputs दे सकते हैं की किस तरीके का कंटेंट आपके fans को पसंद आ रहा है , या किस तरीके की posts आपको और create करना चाइये. Organic-reach बेहद valuable है और अब आपको भी idea लग गया होगा की अपने posts को कैसे study करें और optimise करे जिससे की ये maximise हो सके.

अगर आपको भी में Facebook Marketing में इंटरेस्ट है और अपनी Organic Reach बढ़ाना चाहते है तोह हमारे  Facebook Marketing Course में आज ही एनरोल करवाए और Upto 90% off की Scholarship पाए |

How to increase Organic Reach?
( आर्गेनिक रीच को कैसे बढ़ाया जाए )

How to improve Facebook Organic Reach

तो इसकी key है engagement and sharing क्यूंकि Facebook ऐसे post को reward करता है जो engagement and sharing promote करते हैं. इसी लिए आपको simply interact करना है अपने page के through, इससे आपकी पहुंच increase होगी. क्या आपको पता हैं की आपके followers ये भी ensure कर सकते हैं की वो हमेशा सबसे पहले आपका content ही देखें. आप अपने super fans को guide करें ऐसा करने के लिए.
इसके लिए आपके fans को guide करना होगा की वो आपके Page के following tab की drop-down menu में see first पे click करे.

See also  6.Affiliate Marketing Kya Hai in Hindi, 2021 (Beginners Guide) #gutam bhiya done

एक simple strategy जो एक mediocre business page और एक great results achieving asset में difference create कर सकता है. आपके content का focus engagement पे होना चाहिए. Idea तो बोहोत है simple है पर इसे implement कैसे करना है. अपने ideal customer के बारे में सोचके और उसके according अपने content को tailor करिये जिससे आपके उनसे interaction मिल सके. याद रहे, आपका goal है हर post से जितनी हो सके most possible conversation और engagement को जोड़ना.

किस प्रकार की पोस्ट पर लोग कमेंट करते हैं?

लोगों को ऐसी posts पे comment करना पसंद है जिनसे वो relate कर सकें. तो इसके लिए ऐसे topic पे dialogue शुरू कर सकते है जो business से related तो हो लेकिन आपके targeted client के लिए highly relatable हो. For example, work-life balance और Time management जैसे topic बेहतरीन conversation starters हैं.
आप अपने FB पे हमेशा अपनी company के बारे में बात करना नहीं चाहेंगे, तो कोशिश करें अपनी industry से related relevant news dene की जो आपके लगता है की conversation शुरू कर सकती है. या आप बात कर सकते हैं ऐसी news या events के बारे में जो आपके business या clients को affect कर सकती है.

वैसे तो engagement की ये काफी common practice हो गयी है लेकिन Facebook अब नहीं चाहता की आप अपनी post पे likes, shares or comments के लिए appeal करें. बल्कि ये अब ऐसे content को penalize करता है जो ऐसी spam जैसी wording का use करते हैं. आप question पूछ सकते हैं, या कोई direction दे सकते हैं लेकिन अपने followers को ये मत बताइये की उनको आपसे interact कैसे करना है. और एक post पे multiple hashtags का भी use न करें. FB Instagram के जैसे behave नहीं करता और आपकी engagement उल्टा कम हो जाएगी अगर multiple hashtags use करेंगें तो.
Facebook की algorithm ऐसे content को strongly favor करती hai जो meaningful conversation initiate कर सके. तो agar आप इससे सही से use करेंगे to ये काफी beneficial हो सकती है

फेसबुक के जरिए करें अपने बिजनेस की मार्केटिंग, ये 10 ज़रूरी टिप्स करेंगे आपकी मदद

हाल ही में Pinterest और Snapchat जैसे सोशल मीडिया कॉम्पीटेटर्स के बावजूद, अगर यूजर्स के साथ जुड़ने की बात की जाए तो फेसबुक सबसे लोकप्रिय प्लेटफॉर्म बना हुआ है।

यूजर के फोकस को आकर्षित करने और कम समय में नए ग्राहकों तक पहुंचने के लिए इसकी क्षमता के कारण अधिकांश व्यवसाय मालिकों द्वारा इसे पसंद किया जाता है। कई आंकड़ों से पता चला है कि लोग हर एक दिन फेसबुक और उससे जुड़े एप्लिकेशन की जांच करते हैं।

जैसा कि फेसबुक की अब व्यापक पहुंच है, कोई भी छोटा बिजनेसमैन या आंत्रप्रेन्योर जो अपने बिजनेस को शुरू करने या मजबूत ऑनलाइन उपस्थिति विकसित करने की तलाश में हैं, उन्हें निश्चित रूप से फेसबुक को अपनी सोशल मीडिया मार्केटिंग स्ट्रेटैजी का हिस्सा बनाना चाहिए।

फेसबुक मार्केटिंग में पहला और सबसे महत्वपूर्ण कदम अपने बिजनेस के लिए एक प्रोफेशनल बिजनेस पेज बनाना है। याद रखें, केवल एक बिजनेस बैकग्राउंड शुरू करने से, आपका बिजनेस बड़ा नहीं हो सकता।

अपने पेज को नियमित आधार पर अपडेट करना और अपने दर्शकों को आकर्षित करने, उन्हें लीड में बदलने और उन्हें ग्राहकों में बदलने के लिए सभी गर्म रणनीतियों का उपयोग करना आवश्यक है।

अब, यहां जानिए मार्केटिंग के लिए फेसबुक का उपयोग करने के 10 सर्वश्रेष्ठ तरीके:

1. प्रोफेशनल बिजनेस पेज बनाएं

अधिकांश आंत्रप्रेन्योर व्यक्तिगत (पर्सनल) प्रोफाइल पेज के समान कुछ हद तक एक व्यावसायिक (प्रोफेशनल) पेज बनाने की गलती करते हैं। यदि आप एक सामान्य फेसबुक पेज बना रहे हैं और अपने व्यवसाय का विवरण और नाम जोड़ते हैं, तो इसे प्रोफेशनल पेज नहीं माना जाता है।

फेसबुक प्रोफेशनल पेजेज और व्यक्तिगत (पर्सनल) पेजों को अलग करता है। एक पेशेवर और समर्पित बिजनेस पेज बनाना आवश्यक है।

पेज बनाने के लिए, आपको पेज बनाएँ (select the Pages) विकल्प पर क्लिक करने के बाद फेसबुक पर पेज सेक्शन का चयन करना होगा। प्रोफेशनल पेज बनाने के कुछ लाभ इस प्रकार हैं:

  • प्रोफेशनल पेज में स्पेशल फीचर्स और टूल्स होते हैं जो आपकी व्यावसायिक आवश्यकताओं को मैनेज करने में मदद करते हैं।
  • यह आपके प्रशंसकों को ऑटोमेटिक आपके पेज की मेंबरशिप लेने की अनुमति देता है और आपके पेज के बारे में अपडेट भी प्राप्त करता है।
  • यह आपकी ब्रांड प्रोफाइल को बढ़ाता है और ग्राहकों के साथ विश्वास स्थापित करता है।

2. कवर फ़ोटो जोड़कर ध्यान आकर्षित करें

एक फोटो एक हजार शब्दों को व्यक्त कर सकती है। सर्वश्रेष्ठ कवर फ़ोटो को जोड़कर अपने व्यवसाय के उद्देश्य और लक्ष्य को साझा करें।

फेसबुक बिजनेस पेज के कवर के रूप में 851 x 315 पिक्सल वाली फोटो लगाएं। जब आप बिजनेस पेज के लिए कवर फोटो अपलोड कर रहे हैं, तो आपको कुछ बिंदुओं को ध्यान में रखना होगा।

  • कवर इमेज के मोबाइल लुक पर ध्यान दें।
  • फोटो के कवर के नीचे उससे संबंधित पोस्ट पिन करें।
  • कवर फोटो के लिए सही अलाइनमेंट का उपयोग करें।

Ummeed h ki class aapko pasand aa rahi hogi to bane rahiye class me our sikte rahiye to jante h

3. कस्टम शोर्ट URL और Username बनाएँ

फेसबुक पर प्रोफेशनल बिजनेस पेज बनाते समय, यह आपके पेज के लिए एक random URL प्रदान करता है। हम सुझाव देते हैं कि आप अपने पेज के लिए random URL का उपयोग करने के बजाय कस्टम शोर्ट URL बनाएं।

उदाहरण के लिए, आप अपने बिजनेस के नाम से URL बना सकते हैं। एक URL निम्नलिखित तरह से सहायता करता है:

  • सर्च इंजन के परिणामों में सुधार करता है।
  • ग्राहकों में विश्वास और ब्रांड जागरूकता बढ़ाता है।
  • URM टूल और लिंक रिटारगेटिंग के साथ Integrate करता है।
  • आप अपने SEO को बेहतर बनाने के लिए कीवर्ड्स को टारगेट करके वैनिटी URL को भी ऑप्टिमाइज़ कर सकते हैं।
k

सांकेतिक चित्र (फोटो क्रेडिट: WishpondBlog)

4. अपने बिजनेस के बारे में ‘About’ Section तैयार करें

अपने संभावित ग्राहकों को आपके व्यवसाय के बारे में सूचित करने के सर्वोत्तम तरीकों में से ‘About’ section एक प्रभावी तरीका है।

आपको उन उत्पादों या सेवाओं के बारे में उल्लेख करना चाहिए जिनकी आप पेशकश कर रहे हैं। फेसबुक पर लगभग यह टैब बिजनेस पेज के बाईं ओर स्थित है। विजिटर ‘About’ Section में आपकी सेवाओं और उत्पादों, इंस्टाग्राम पेज, अनुभव, हाल के ग्राहकों, वेबसाइट URL और संपर्क विवरण के बारे में अधिक सीखते हैं।

फेसबुक बिजनेस पेज में ऐसे वर्गों का पूरी तरह से उपयोग करके स्मार्ट बने रहें।

5. फेसबुक पिक्सल का उपयोग करें

इसमें कोडिंग की एक line शामिल है जिसे आप वेबसाइट पर install कर सकते हैं ताकि वेबसाइट के विजिटर के micro conversions, conversions और behavior को ट्रैक कर सकें।

Facebook Pixel आपको Facebook Ads के लिए कस्टम ऑडियंस बनाने में मदद करता है।

इसके जरिए, आप फेसबुक पर प्रचार प्रसार कर सकते हैं और वेबसाइट पर विजिटर्स के सामने विज्ञापन प्रदर्शित कर सकते हैं क्योंकि वे अपने मोबाइल फोन या पीसी का उपयोग करके सोशल नेटवर्क के माध्यम से ब्राउज़ कर रहे हैं। Facebook Pixel आपकी वेबसाइट पर आने वाले किसी भी व्यक्ति का पता लगाता है कि वे किस रेफरल सोर्स में आते हैं।

इसके कारण, रिटारगेटिंग आपके संपूर्ण मार्केटिंग एक्सर्ट को अन्य प्लेटफॉर्म्स से भी reinforce करता है।

6. फेसबुक ऑडियंस नेटवर्क

फ़ेसबुक मैसेंजर, इंस्टाग्राम सहित प्लेटफ़ॉर्म के अलावा कई अन्य ऐप पर विज्ञापन प्रदर्शित करता है और इसे फ़ैन या फ़ेसबुक नेटवर्क के रूप में जाना जाता है।

आप फेसबुक एड मैनेजर में देखे गए स्थानों के रूप में निर्दिष्ट विकल्पों के रूप में अपने विज्ञापन दिखाने के लिए प्लेटफॉर्म का चयन करने में सक्षम होंगे। आप फेसबुक विज्ञापनों पर सैकड़ों डॉलर खर्च कर रहे होंगे।

तो, यह आपके दर्शकों के नेटवर्क पर विज्ञापन दिखाने के लिए स्मार्ट है। ऑडियंस नेटवर्क महत्वपूर्ण रूप से पहुंच बढ़ाता है। यह देशी विज्ञापन प्रदान करता है जो कि उपयोगकर्ता इसे विज्ञापनों की तरह अनुभव नहीं कर सकते हैं। यह कई प्लेटफार्मों और उपकरणों पर उपभोक्ताओं का अनुसरण करने के लिए विज्ञापनों की अनुमति देता है।

k

सांकेतिक चित्र (फोटो क्रेडिट: LYFEMarketing)

ऑडियंस नेटवर्क को सक्षम करके, आप अपने CPR को काफी कम कर सकते हैं क्योंकि ऑडियंस नेटवर्क इंप्रेशन मछली पकड़ने वाले ग्राहकों के लिए एक बड़े समुद्र के रूप में काम करता है।

7. वीडियो मार्केटिंग

लोग रंग, ऑडियो क्लिप और विजुअल को पसंद करते हैं जो उनकी कल्पना को गति प्रदान करते हैं। जैसा कि आप पहले से ही जानते हैं, वीडियो सामान्य टेक्स्ट पोस्टों की तुलना में असाधारण रूप से आंख को पकड़ने वाले होते हैं।

फेसबुक ने इस प्रवृत्ति की पहचान की है और अपने एल्गोरिथ्म में वीडियो सामग्री को महत्व देता है। उन्होंने एक ऑटोप्ले फीचर भी जारी किया है।

जब आप फेसबुक पर वीडियो मार्केटिंग करते हैं, तो आपको यह सुनिश्चित करना चाहिए कि वीडियो पेचीदा और संक्षिप्त हैं। सामग्री मनोरंजक और ताज़ा होनी चाहिए और वायरल होने की क्षमता होनी चाहिए।

वीडियो को आपके दर्शकों को शिक्षित करना चाहिए। लेकिन दर्शकों को शिक्षित करने से पहले, आपको अपने संभावित दर्शकों के बारे में सीखना होगा। याद रखें, दर्शकों से ध्यान प्राप्त करने के लिए वीडियो के पहले दो सेकंड बहुत महत्वपूर्ण हैं।

यदि वीडियो को लोड होने में बहुत समय लगता है, तो दर्शकों के लिए कैंसिल या स्टॉप बटन पर क्लिक करने की संभावना है। अपनी सेवा या उत्पाद के लिए रोमांचक और नए उपयोग दिखाएं।

8. मैसेजेज का तुरंत रिप्लाई दें

फेसबुक पर बिजनेस पेज बनाने का मुख्य उद्देश्य ग्राहकों से जल्दी जुड़ना है।

इसलिए, उनके प्रश्नों और अनुरोधों का तेजी से जवाब देना आवश्यक है। लगातार आधार पर निजी संदेश बॉक्स की जांच करना सुनिश्चित करें। जब आप तेजी से प्रतिक्रिया करते हैं, तो आपके पास पेज पर उत्तरदायी टिकट प्राप्त करने की संभावना होती है।

आमतौर पर बिजनेस पेजों में देखे जाने वाले कुछ बैज आम तौर पर एक दिन के भीतर जवाब देते हैं और बहुत उत्तरदायी होते हैं।

फेसबुक कानूनों के अनुसार सभी प्रश्नों का जवाब देना अनिवार्य है, लेकिन जवाब देना ऐसे साक्ष्य के रूप में कार्य करता है, जिसकी आप देखभाल करते हैं और अपने ग्राहकों के प्रश्नों को महत्व देते हैं।

9. जानें कब करें पोस्ट

पेज पर कंटेंट या वीडियो पोस्ट करने के लिए कोई सख्त नियम नहीं हैं।

हालाँकि, कुछ डेटा से फेसबुक पर कंटेंट शेयर करने के लिए सही समय और दिन के बारे में कुछ दिलचस्प जानकारी का पता चलता है ताकि उच्च उपयोगकर्ता सहभागिता (high user engagement) को पकड़ा जा सके।

10. इंट्रेस्टिंग और इनोवेटिव बने रहें

केवल आपके बिजनेस प्रोडक्ट्स की मार्केटिंग से आपके फॉलोअर्स के निराश होने की संभावना है।

दिलचस्प समाचार या फैक्ट्स शेयर करते रहें, जो आपके उत्पाद को जोड़ता है। इस तरह, रिडर आपकी पोस्ट पर ध्यान देंगे और आपकी पोस्ट की जाँच के बाद उत्पादों को खरीदने पर भी विचार करेंगे।

k

सांकेतिक चित्र (फोटो क्रेडिट: Entrepreneur)

इन 10 प्रभावी फेसबुक मार्केटिंग टिप्स के साथ, आप आसानी से मास्टर कर सकते हैं और अपने व्यवसाय के लिए सबसे अच्छा recompenses प्राप्त कर सकते हैं।

Ummeed hai aapko hamari iss class mein jo bhi bataya gaya h, wo poori tarah se samjh mein aaya hoga…. Yadi haan toh hamari aage aane wali classes ko bhi join kare Aur apna feed…..Dhanyawaad.

hello guys aaj ki class me ham sikhne wale h ki Facebook Marketing Kya Hai? और इसका इस्तेमाल कैसे करते है? to start krte h

ham pahle is class ka ek overview dek lete h to ham padne wale h ki

1.Facebook Marketing Kya Hai? और इसका इस्तेमाल कैसे करते है?
2.फेसबुक मार्केटिंग के फायदे  (Advantages of Facebook Marketing)
3.(Brand Awareness increase करना और new customers को educate करने के लिए extremely useful होता है)
4.Challenges Faced in फेसबुक Marketing
5.Awareness through Facebook marketing
6.Reach Using Facebook Advertising
7.Website Traffic By Facebook Advertising
8.Lead Generation Through Facebook Advertising
9.What is Organic Reach?
(आर्गेनिक रीच क्या है ?)
10.ho see your content ?
( फेसबुक पर आपके कंटेंट को कौन देखता है )
11.How to increase Organic Reach?
( आर्गेनिक रीच को कैसे बढ़ाया जाए )
12.. कस्टम शोर्ट URL और Username बनाएँ

Aur bhi bahut kuch … toh class mein end tak bane rhe

to let’s start it

Social media marketing (FacebookInstagramLinkedin इत्यादि ) businesses के लिए हमेशा ही बहुत beneficial होता है चाहे वह छोटा business हो या बड़ा. 2004 में अपने launch के बाद से FB को लोगों ने बहुत positively embrace किया है. और यह बात बहुत से businesses को Facebook marketing के through अपने vast proportion of customers को attract करने की opportunity देती है. मगर Facebook ads के multiple advantages के साथ कई सारे challenges भी होते हैं. आज हम यहां उन्ही FB marketing के advantages और challenges के बारे में जानेंगे.

फेसबुक मार्केटिंग के फायदे  (Advantages of Facebook Marketing)

 The number of users on Facebook, especially in India is very high:

(FB पर number of users, especially India में काफी ज्यादा है)

Undoubtedly, FB 2.41 billion user account के साथ social media में सबसे बड़ा player है. और इनमे से 241 million तो सिर्फ India से ही है, जो हमे इसका largest user base बनाता है. यह platform आपको pages, groups, और ads के form में marketing के लिए multiple platforms देता है. इन सबमें से FB page एक individual या एक business को represent करने का एक most popular तरीका है.

Average time spent on Facebook is high:

(लोगों का फेसबुक पर average time spent high होता है)

One of the major advantages of FB है की आज के time पर 80% internet users इसे use करते है. यहां तक कि 65% of 65+ years adults भी. 80% teens भी सुबह उठते ही सबसे पहले अपना FB feed check करते हैं. और 96% users इसे mobile पर access करते हैं. अब इन सभी information के कारण आप जानते हैं कि आपकी maximum audience mobile users है तो आप अपने content को उसी according curate कर सकते हैं और उस तरह आपका आपके customers के attention को gain करने का chances भी काफी बढ़ जाएगा.

Extremely useful in increasing brand awareness and educating new customers:

(Brand Awareness increase करना और new customers को educate करने के लिए extremely useful होता है)

 Facebook ads आपके brand awareness को significantly build करेगा. ये एक बहुत ही अच्छा तरीका होता है लोगों को यह बताने का कि आपके पास offer करने को क्या है. लोग जितना ही ज्यादा आपके brand से familiar होंगे उतने ही ज्यादा chances हैं कि decision लेने के वक्त वह आपके product purchase करेंगे. Facebook advertising आपके customer attribution में भी बहुत help करती है. और यह बहुत जरूरी भी है क्योंकि जितनी बार आपके business के साथ आपकी audience interact करेगी, उनके convert होने की chances भी उतना ही ज्यादा बढ़ेंगे.

Can be used for engaging and targeting potential customers:

(इसे potential customers को target और engage करने के लिए use किया जा सकता है)

Facebook ads के पास एक unique facility होती है जो आपको demographics और interest के basis पर potential customers को target करना allow करती है. यह आपको उन customer को भी फिर से target करने के लिए enable करती है जिन्होंने पहले आपके site को visit किया था, ताकि आप अपने target audience को effectively narrow कर सकें. Facebook advertising आपके website traffic को boost कर सकता है और ये कई मायनों में बाकी sources से ज्यादा beneficial है.

Advertisement on FB is highly targeted, cheap and fast, and results are easily measurable:

(फेसबुक पर advertisement highly targeted, cheap और fast होते हैं और इनके results भी easily measurable होते हैं)

Facebook advertising एक most targeted form of advertising है. आप लोगों में age, interest, behavior और location के basis पर अपने business को advertise कर सकते हैं. इसके साथ साथ Facebook advertising काफी fast होती है, और यह immediate results drive करती है. आप एक ही दिन में एक साथ thousands लोगों तक reach कर सकते हैं, जिसकी वजह से यह one of the cheapest form of advertisement भी है.

क्या आपको भी Facebook Marketing में interest है ? तो enroll कीजिये हमारे Facebook Marketing Course में और पाईये 90% तक की Scholarship.

Challenges Faced in फेसबुक Marketing

Challenges Faced in Facebook Marketing

Technological requirement/skill requirement (Facebook marketing can be very complicated):

एक Facebook marketing challenge जो कई business persons को frustrate करता है वह है lack of technological know-how में gap. ऐसे कई CEOs हैं जिन्होंने अपना career और business major technological challenges आने से काफी पहले ही start किया था जिसके कारण उन्हें इसके बारे में सही knowledge नहीं है या कई ऐसे हैं जिनमें technological knowledge की कमी है. ऐसे में जब वह अपने colleagues, industry के उनके friends या/और analyst report को consult करते हैं तो उन्हें different sources से varied response और mostly incomplete knowledge ही मिलती है.

Still, many people are not on FB or are not very active on it:

(अभी भी बहुत से ऐसे लोग हैं जो या तो फेसबुक पर है ही नहीं या फिर वह इस पर ज्यादा active नहीं रहते हैं)

You know it’s a fact की दुनिया की around half population FB पर present ही नहीं है. India में भी यह number approx 1 billion लोग हैं. कई लोग हैं जिनको इस पर account बनाने के बाद अपने profile को update रखना पसंद नहीं, कई सारे ऐसे भी हैं जिनके लिए इस पर account बनाना ही necessary नहीं लगता. इन सबके अलावा world की एक significant proportion है जिनके पास अभी तक internet कि facility नहीं पहुंच सकी है. इन सब बातों के कारण हो सकता है आपके B2B marketing और sales campaign को Facebook marketing benefit ना करे.

Creation of goals and strategy:

(Goals और strategy create करना)

Goals और strategy यह तय करती है कि आप अपने brand को अपने लिए सही audience को product showcase करने की opportunity दें. ये जरूर हो सकता है कि आपको पता हो की आप क्या और क्यों accomplish करना चाहते हैं, मगर बिना किसी strategy के आपके पास कोई specific plan या कहें roadmap के बिना आपका आपके goals को achieve करना बेहद मुश्किल हो जाता है.

Creating regular and diversified content:

(Regular और diversified content create करना)

Facebook marketing में content एक बहुत ही important role play करता है. इससे फर्क नहीं पड़ता है कि आप किस तरह का ad format choose करते हैं, मगर marketing के लिए content बहुत ही essential है. यह text-based, visual or audio भी हो सकता है मगर जरूरी यह है कि आपको regular और diversified होना चाहिए. और इससे भी ज्यादा जरूरी है आपके content को आपकी brand values और Facebook marketing goals के साथ inlined होना चाहिए. अगर आपके पास content नहीं है तो आपके पास इस पर amplify करने को कुछ भी नहीं है और लोग आपके sales message और special offers से बहुत जल्दी ही tired हो जाएंगे.

Gaining customer attention:

(Customers का attention gain करना)

FB पर कई different type के post होते है. कुछ ऐसे होते है जो audience को annoy कर सकते है, और कुछ होते है जो उन्हें engage कर सकते है. कुछ तो हो सकता है audience तक पहुंचे भी नहीं क्योंकि इसने अपने news feed में बहुत से changes लाए है. और इतना ही नहीं, FB पर thousands of brands है जो users के attention के लिए compete कर रहे है. इसकी वजह से बहुत noise create होता है जिसकी वजह से आपके business का stand out कर पाना और भी मुश्किल हो जाता है चाहे आपका content आपके audience कि feed में organically appear हो रहा हो या paid capacity में.

यहाँ हमने आपको FB के फायदों(advantages) के साथ ही उनसे जुडी चुनौतियों (challenges) के बारे में भी बताया। लेकिन एक बात तो साफ़ है की Facebook Marketing के लिए बेहद जरूरी है और ख़ास कर के छोटे व्यवसाय(small businesses) के लिए । ये इन small businesses को बड़े Brands से मुकाबला कर अपनी Market बनाने का मौका देता है।

Top 7 Facebook Ads Marketing Objectives For Your Business in Hindi

आपको भी Facebook advertising के लिए marketing objective decide करना confusing लगता है? आप समझ नहीं पाते कि Facebook advertising का क्या use है? Facebook के help से आप अपने business के लिए marketing कैसे कर सकते हैं? अगर हां, तो आप अकेले नहीं है. Facebook पे  Marketing करते हुए Challenges का आना बड़ी ही common बात है. Most of the people इस जगह stumble करते हैं.

” The aim of marketing is to know & understand the customer so well the product or service with him & sells itself. “

जब आप अपने business के लिए एक Facebook ad campaign objective choose करते हैं तब आप FB  को बता रहे होते हैं कि आप क्या result देखना चाहते हैं, या आप क्या चाहते हैं कि आपके users कौन से actions ले. यह सब इस चीज को impact करेगा कि आप किन actions को optimize करना चाहते हैं, आप किस चीज के लिए pay करेंगे, और यहां तक कि किस तरह के creative options आपके लिए available है. 

इस article में हम 7 major Facebook ad campaign objectives  for our business के बारे में जानेंगे. और साथ ही सारे objectives को clear explanations के साथ break down करेंगे ताकि आप अपने Facebook marketing strategy को सही तरीके से plan कर सके. So let’s get started.

.

Awareness through Facebook marketing

Facebook Brand Awareness

Facebook marketing का ये objective users को आपके product या service के बारे में knowledge देकर interest generate करने का काम करता है. इस objective के help से आपके brand को उन लोगों तक पहुंचाया जाता है जो आपके potential customer तो हो सकते हैं मगर अभी आपके brand और products से जुड़ी कोई जानकारी नहीं रखते हैं. इस objective के साथ, आपके पास करने को दो options होते हैं-

I) Local awareness This objective of Facebook marketing is for small business generally. ये आप उन potential customers को reach करने के लिए use करते हैं जो आपके business के नजदीक available हो. इसकी काफी limited targeting होते हैं (जैसे age, gender, और radius from your business)

II) Brand awareness  – यह उन लोगों को reach करने के लिए होता है जिनके आपके adverts पर ध्यान देने के ज्यादा chances होते हैं. इस objective का बेहतर result relatively larger businesses के लिए ज्यादा positive रहता है क्योंकि वो pure branding only campaigns run करना afford कर सकते हैं.

Reach Using Facebook Advertising

This objective of Facebook advertising for your business maximizes number of people जो आपके ads को देखते हैं और साथ ही यह number of times को भी maximize करता है जब लोग आपके ads को देखें. Plain और simple words में यह आपके digital marketing के exposure को maximize करने की कोशिश करता है. Unlike other Facebook advertising campaigns, आप इसकी frequency को control कर सकते हैं. इसे frequency capping कहते हैं. यह objective आपके लिए particularly तब ज्यादा useful होगी जब आपके पास smaller audience size हो, और आप चाहते हो कि सभी आपके ads को देखें. क्योंकि हो सकता है यह आपके brand को exposure देने का एक cheap way हो, but इसे quantify करना बहुत मुश्किल होता है- especially तब जब आपका sales cycle इतना लंबा हो कि Facebook conversions को accurately देख ही ना सके

Facebook Consideration Advertising

Facebook Consideration Hindi

ये objective आपकी target audience  को आपके business के बारे में सोचने पर और उससे related information जुटाने के लिए encourage करता है. यह आपके potential customers को आपके product और services खरीदने के लिए influence करता है.

Website Traffic By Facebook Advertising

Website Traffic By Facebook Hindi

इस objective को अपने Facebook campaign का part बना कर आप clicks को use करते हैं ताकि आप लोगों को अपने website की तरफ send कर सकें. यह आपको अपने prospects को educate करने के साथ-साथ time पर remarketing list build करने में help करता है. Traffic objective के साथ आपके पास different bidding options होते हैं. यह एक CPM model होता है, और even though आपका target link clicks होता है, मगर आपके पास इसको “pay per link click” में change करने का option भी होता है. आप alternatively इन options पर भी bid कर सकते हैं-

  1. Landing page,
  2. Impressions, और
  3. Daily unique reach
See also  Mungear University Exam Date 2021 BA B.Sc Part 1 2 3 Time Table

Facebook Post Engagement:

facebook post engegement hindi

Post engagement objective का main goal होता है to drive engagement. FB आपके audience में उन लोगों को ही आपके ads दिखाएगा जो most likely आपसे engage करेंगे. Engagement campaign आपको serve कर सकता है as:

  1. Remarketing pool बनाने के cheap way में.
  2. Social proof build करने के way में.

इस objective को आप post engagement, impressions, या reach को optimize करने के लिए भी use कर सकते हैं. इसकी help से आप ज्यादा बेहतर तरीके से एक larger set of audience को reach कर पाएंगे. 

Lead Generation Through Facebook Advertising

Facebook Lead Generation Hindi

ये objective आपके business के लिए एक versatile Facebook advertising strategy prove हो सकता है. इस objective को use करके आप एक form create कर सकते हैं जो लोगों से information collect करेगा जैसे newsletters के लिए sign-ups, price estimate, follow up calls, etc. आप 3 ways में इसको approach कर सकते हैं:

  1. Top-funnel (Low intent audience): ये आप awareness level content के लिए downloads drive करने के लिए use करेंगे, और वह भी email list साथ में build करते हुए.
  2. Mid-funnel: Mid-funnel content के exchange में downloads drive करने के लिए.

III) Low-funnel (High intent audience): इसे आप requests के pricing/quote के लिए, coupons drive करने के लिए, या promotions को access करवाने के लिए use कर सकते हैं.

क्या आपको भी Facebook Marketing में interest है ? तो enroll कीजिये हमारे Facebook Marketing Course में और पाईये 90% तक की Scholarship.

Conversions Through Facebook Ads

Facebook Conversion Hindi

ये objective almost हर company या brand के Facebook marketing strategy का part होती है. और इसलिए यह most widely used objective है. इसका काम होता है website पर conversions को promote करना इसे आप तब अपने Facebook advertising strategy का part बना सकते हैं जब आप लोगों को अपने website की तरफ drive करना चाहते हो ताकि वह specific actions ले जैसे webinar के लिए signup करना, guide download करना या कोई product purchase करना. यह सब से बेहतर तरीके से तब काम करता है जब:

  1. जब audience low-funnel हो और convert होने को तैयार हो (Eg.- Remarketing).
  2. जब audience high-funnel हो मगर product या service को थोड़े से consideration की जरूरत हो.
  3. जब audience high-funnel हो और जो conversion optimize किया जा रहा हो वह भी high-funnel हो.

Conversion objectives को data की जरूरत पड़ती है ताकि वह बेहतर तरीके से खुद को optimize कर सकें. तो कुछ बातें हैं जिनका आप को ध्यान रखना चाहिए-

  1.  Audiences को बहुत ज्यादा भी segment नहीं करें.
  2. बहुत ज्यादा lofty conversion type set ना करें.

Facebook Organic Reach क्या है? और इसे कैसे बढ़ाया (Increase) जाए ?

Facebook पर Organic Reach increase करने का question अक्सर लोगों को और ख़ास कर के companies को परेशान करता रहा है. Facebook पर लोगों तक पहुँचना हर बार easy नहीं होता. ये companies के लिए कई बार काफी frustrating हो जाता है की वो काफी efforts लगा के भी लोगों तक अपना content पहुंचाने में सफल नहीं हो पाते. ऐसा क्यों होता है की कई बार कोई company बोहोत सारा पैसा लगा के भी फेसबुक पे लोगो को जोड़ने में और engage करने में असफल होती हैं और दूसरी तरफ एक company बिना एक भी पैसा खर्च करे न केवल नए लोगो को attract करने में कामयाब होती है इसके साथ ही उनका content भी audiences के बीच पॉपुलर होता है. यहाँ हम इसी सवाल का जवाब देने की कोशिश करेंगे.

What is Organic Reach?
(आर्गेनिक रीच क्या है ?)

Organic Reach On Facebook

आपने marketing में page की organic-reach की importance के बारे में तो सुना ही होगा. तो हम बात करेंगे की इस से related हम क्या कर सकते हैं की better results दिखाई दें.
इसका मतलब है की कितने लोगों तक आप free में पहुँच सकते हैं अपने page पे कुछ post करके. इसका opposite होता है paid reach,जो की नाम में ही clear है की हम पैसे देके advertisement के through अपने कंटेंट की पहुँच को increase कर रहे हैं.

Who see your content ?
( फेसबुक पर आपके कंटेंट को कौन देखता है )

जिन लोगों ने आपको Like या follow किया हुआ वो उनको आपकी posts अपनी News feed में दिखती हैं या फिर कोई आपकी Profile खोल के आपकी recent posts देख सकता है .
असल में जिन लोगों ने आपके पेज को follow या like करा हुआ है वो आपकी सारी posts को अपनी news feed में नहीं देखते. उनको probably आप जो कुछ भी publish कर रहे है उसका एक fraction ही दिखाई देता है. ये इसलिए है क्यूंकि Facebook अपने खुदके complex formulas उसे करता है, FB का खुद का algorithm है जो ये decide करता है की किसको कोनसा post show करना है, जो की based होता है उस user के अलग अलग contents के interactions पर. ये इसकी algorithm है .

How to measure Organic Reach?
(आर्गेनिक रीच को कैसे माप सकते हैं ?)

इसे improve करने के बारे में understand करने के लिए आपको पहले ये understand करना पड़ेगा की इसको measure कैसे करें. इसके लिखे आप Insights tab की help ले सकते हैं, जो आपके page के top में होता है उसमें दिए गए data को study करें. Page insights paid और unpaid reach को separate करके data देता है. जिससे के आप unpaid posts की strategy एक effective तरीके से manage कर सकें. इसके लिए आप कुछ important data को study करें.

तो Insights में Reach category के under आप देखेंगे की page ने unpaid reach में high spike दिया है जिस्का मतलब है की बिना कोई पैसे दिए आपकी पहुँच increase हुई है.. Basically कब आपकी पहुँच बिना की paise दिए सबसे ज्यादा थी. फिर दूसरा आप Insights के under Posts category में जाके देख सकते हैं किस post से ये spike हुई है. आपके अपने कंटेंट में, जो की most unpaid reach वाले posts है, उसको study करना चाहिए. identify करने के लिए की ये इतने लोगों तक कैसे पहुंच पाया.
ये आपके काफी inputs दे सकते हैं की किस तरीके का कंटेंट आपके fans को पसंद आ रहा है , या किस तरीके की posts आपको और create करना चाइये. Organic-reach बेहद valuable है और अब आपको भी idea लग गया होगा की अपने posts को कैसे study करें और optimise करे जिससे की ये maximise हो सके.

अगर आपको भी में Facebook Marketing में इंटरेस्ट है और अपनी Organic Reach बढ़ाना चाहते है तोह हमारे  Facebook Marketing Course में आज ही एनरोल करवाए और Upto 90% off की Scholarship पाए |

How to increase Organic Reach?
( आर्गेनिक रीच को कैसे बढ़ाया जाए )

How to improve Facebook Organic Reach

तो इसकी key है engagement and sharing क्यूंकि Facebook ऐसे post को reward करता है जो engagement and sharing promote करते हैं. इसी लिए आपको simply interact करना है अपने page के through, इससे आपकी पहुंच increase होगी. क्या आपको पता हैं की आपके followers ये भी ensure कर सकते हैं की वो हमेशा सबसे पहले आपका content ही देखें. आप अपने super fans को guide करें ऐसा करने के लिए.
इसके लिए आपके fans को guide करना होगा की वो आपके Page के following tab की drop-down menu में see first पे click करे.

एक simple strategy जो एक mediocre business page और एक great results achieving asset में difference create कर सकता है. आपके content का focus engagement पे होना चाहिए. Idea तो बोहोत है simple है पर इसे implement कैसे करना है. अपने ideal customer के बारे में सोचके और उसके according अपने content को tailor करिये जिससे आपके उनसे interaction मिल सके. याद रहे, आपका goal है हर post से जितनी हो सके most possible conversation और engagement को जोड़ना.

किस प्रकार की पोस्ट पर लोग कमेंट करते हैं?

लोगों को ऐसी posts पे comment करना पसंद है जिनसे वो relate कर सकें. तो इसके लिए ऐसे topic पे dialogue शुरू कर सकते है जो business से related तो हो लेकिन आपके targeted client के लिए highly relatable हो. For example, work-life balance और Time management जैसे topic बेहतरीन conversation starters हैं.
आप अपने FB पे हमेशा अपनी company के बारे में बात करना नहीं चाहेंगे, तो कोशिश करें अपनी industry से related relevant news dene की जो आपके लगता है की conversation शुरू कर सकती है. या आप बात कर सकते हैं ऐसी news या events के बारे में जो आपके business या clients को affect कर सकती है.

वैसे तो engagement की ये काफी common practice हो गयी है लेकिन Facebook अब नहीं चाहता की आप अपनी post पे likes, shares or comments के लिए appeal करें. बल्कि ये अब ऐसे content को penalize करता है जो ऐसी spam जैसी wording का use करते हैं. आप question पूछ सकते हैं, या कोई direction दे सकते हैं लेकिन अपने followers को ये मत बताइये की उनको आपसे interact कैसे करना है. और एक post पे multiple hashtags का भी use न करें. FB Instagram के जैसे behave नहीं करता और आपकी engagement उल्टा कम हो जाएगी अगर multiple hashtags use करेंगें तो.
Facebook की algorithm ऐसे content को strongly favor करती hai जो meaningful conversation initiate कर सके. तो agar आप इससे सही से use करेंगे to ये काफी beneficial हो सकती है

फेसबुक के जरिए करें अपने बिजनेस की मार्केटिंग, ये 10 ज़रूरी टिप्स करेंगे आपकी मदद

हाल ही में Pinterest और Snapchat जैसे सोशल मीडिया कॉम्पीटेटर्स के बावजूद, अगर यूजर्स के साथ जुड़ने की बात की जाए तो फेसबुक सबसे लोकप्रिय प्लेटफॉर्म बना हुआ है।

यूजर के फोकस को आकर्षित करने और कम समय में नए ग्राहकों तक पहुंचने के लिए इसकी क्षमता के कारण अधिकांश व्यवसाय मालिकों द्वारा इसे पसंद किया जाता है। कई आंकड़ों से पता चला है कि लोग हर एक दिन फेसबुक और उससे जुड़े एप्लिकेशन की जांच करते हैं।

जैसा कि फेसबुक की अब व्यापक पहुंच है, कोई भी छोटा बिजनेसमैन या आंत्रप्रेन्योर जो अपने बिजनेस को शुरू करने या मजबूत ऑनलाइन उपस्थिति विकसित करने की तलाश में हैं, उन्हें निश्चित रूप से फेसबुक को अपनी सोशल मीडिया मार्केटिंग स्ट्रेटैजी का हिस्सा बनाना चाहिए।

फेसबुक मार्केटिंग में पहला और सबसे महत्वपूर्ण कदम अपने बिजनेस के लिए एक प्रोफेशनल बिजनेस पेज बनाना है। याद रखें, केवल एक बिजनेस बैकग्राउंड शुरू करने से, आपका बिजनेस बड़ा नहीं हो सकता।

अपने पेज को नियमित आधार पर अपडेट करना और अपने दर्शकों को आकर्षित करने, उन्हें लीड में बदलने और उन्हें ग्राहकों में बदलने के लिए सभी गर्म रणनीतियों का उपयोग करना आवश्यक है।

अब, यहां जानिए मार्केटिंग के लिए फेसबुक का उपयोग करने के 10 सर्वश्रेष्ठ तरीके:

1. प्रोफेशनल बिजनेस पेज बनाएं

अधिकांश आंत्रप्रेन्योर व्यक्तिगत (पर्सनल) प्रोफाइल पेज के समान कुछ हद तक एक व्यावसायिक (प्रोफेशनल) पेज बनाने की गलती करते हैं। यदि आप एक सामान्य फेसबुक पेज बना रहे हैं और अपने व्यवसाय का विवरण और नाम जोड़ते हैं, तो इसे प्रोफेशनल पेज नहीं माना जाता है।

फेसबुक प्रोफेशनल पेजेज और व्यक्तिगत (पर्सनल) पेजों को अलग करता है। एक पेशेवर और समर्पित बिजनेस पेज बनाना आवश्यक है।

पेज बनाने के लिए, आपको पेज बनाएँ (select the Pages) विकल्प पर क्लिक करने के बाद फेसबुक पर पेज सेक्शन का चयन करना होगा। प्रोफेशनल पेज बनाने के कुछ लाभ इस प्रकार हैं:

  • प्रोफेशनल पेज में स्पेशल फीचर्स और टूल्स होते हैं जो आपकी व्यावसायिक आवश्यकताओं को मैनेज करने में मदद करते हैं।
  • यह आपके प्रशंसकों को ऑटोमेटिक आपके पेज की मेंबरशिप लेने की अनुमति देता है और आपके पेज के बारे में अपडेट भी प्राप्त करता है।
  • यह आपकी ब्रांड प्रोफाइल को बढ़ाता है और ग्राहकों के साथ विश्वास स्थापित करता है।

2. कवर फ़ोटो जोड़कर ध्यान आकर्षित करें

एक फोटो एक हजार शब्दों को व्यक्त कर सकती है। सर्वश्रेष्ठ कवर फ़ोटो को जोड़कर अपने व्यवसाय के उद्देश्य और लक्ष्य को साझा करें।

फेसबुक बिजनेस पेज के कवर के रूप में 851 x 315 पिक्सल वाली फोटो लगाएं। जब आप बिजनेस पेज के लिए कवर फोटो अपलोड कर रहे हैं, तो आपको कुछ बिंदुओं को ध्यान में रखना होगा।

  • कवर इमेज के मोबाइल लुक पर ध्यान दें।
  • फोटो के कवर के नीचे उससे संबंधित पोस्ट पिन करें।
  • कवर फोटो के लिए सही अलाइनमेंट का उपयोग करें।

Ummeed h ki class aapko pasand aa rahi hogi to bane rahiye class me our sikte rahiye to jante h

3. कस्टम शोर्ट URL और Username बनाएँ

फेसबुक पर प्रोफेशनल बिजनेस पेज बनाते समय, यह आपके पेज के लिए एक random URL प्रदान करता है। हम सुझाव देते हैं कि आप अपने पेज के लिए random URL का उपयोग करने के बजाय कस्टम शोर्ट URL बनाएं।

उदाहरण के लिए, आप अपने बिजनेस के नाम से URL बना सकते हैं। एक URL निम्नलिखित तरह से सहायता करता है:

  • सर्च इंजन के परिणामों में सुधार करता है।
  • ग्राहकों में विश्वास और ब्रांड जागरूकता बढ़ाता है।
  • URM टूल और लिंक रिटारगेटिंग के साथ Integrate करता है।
  • आप अपने SEO को बेहतर बनाने के लिए कीवर्ड्स को टारगेट करके वैनिटी URL को भी ऑप्टिमाइज़ कर सकते हैं।
k

सांकेतिक चित्र (फोटो क्रेडिट: WishpondBlog)

4. अपने बिजनेस के बारे में ‘About’ Section तैयार करें

अपने संभावित ग्राहकों को आपके व्यवसाय के बारे में सूचित करने के सर्वोत्तम तरीकों में से ‘About’ section एक प्रभावी तरीका है।

आपको उन उत्पादों या सेवाओं के बारे में उल्लेख करना चाहिए जिनकी आप पेशकश कर रहे हैं। फेसबुक पर लगभग यह टैब बिजनेस पेज के बाईं ओर स्थित है। विजिटर ‘About’ Section में आपकी सेवाओं और उत्पादों, इंस्टाग्राम पेज, अनुभव, हाल के ग्राहकों, वेबसाइट URL और संपर्क विवरण के बारे में अधिक सीखते हैं।

फेसबुक बिजनेस पेज में ऐसे वर्गों का पूरी तरह से उपयोग करके स्मार्ट बने रहें।

5. फेसबुक पिक्सल का उपयोग करें

इसमें कोडिंग की एक line शामिल है जिसे आप वेबसाइट पर install कर सकते हैं ताकि वेबसाइट के विजिटर के micro conversions, conversions और behavior को ट्रैक कर सकें।

Facebook Pixel आपको Facebook Ads के लिए कस्टम ऑडियंस बनाने में मदद करता है।

इसके जरिए, आप फेसबुक पर प्रचार प्रसार कर सकते हैं और वेबसाइट पर विजिटर्स के सामने विज्ञापन प्रदर्शित कर सकते हैं क्योंकि वे अपने मोबाइल फोन या पीसी का उपयोग करके सोशल नेटवर्क के माध्यम से ब्राउज़ कर रहे हैं। Facebook Pixel आपकी वेबसाइट पर आने वाले किसी भी व्यक्ति का पता लगाता है कि वे किस रेफरल सोर्स में आते हैं।

इसके कारण, रिटारगेटिंग आपके संपूर्ण मार्केटिंग एक्सर्ट को अन्य प्लेटफॉर्म्स से भी reinforce करता है।

6. फेसबुक ऑडियंस नेटवर्क

फ़ेसबुक मैसेंजर, इंस्टाग्राम सहित प्लेटफ़ॉर्म के अलावा कई अन्य ऐप पर विज्ञापन प्रदर्शित करता है और इसे फ़ैन या फ़ेसबुक नेटवर्क के रूप में जाना जाता है।

आप फेसबुक एड मैनेजर में देखे गए स्थानों के रूप में निर्दिष्ट विकल्पों के रूप में अपने विज्ञापन दिखाने के लिए प्लेटफॉर्म का चयन करने में सक्षम होंगे। आप फेसबुक विज्ञापनों पर सैकड़ों डॉलर खर्च कर रहे होंगे।

तो, यह आपके दर्शकों के नेटवर्क पर विज्ञापन दिखाने के लिए स्मार्ट है। ऑडियंस नेटवर्क महत्वपूर्ण रूप से पहुंच बढ़ाता है। यह देशी विज्ञापन प्रदान करता है जो कि उपयोगकर्ता इसे विज्ञापनों की तरह अनुभव नहीं कर सकते हैं। यह कई प्लेटफार्मों और उपकरणों पर उपभोक्ताओं का अनुसरण करने के लिए विज्ञापनों की अनुमति देता है।

k

सांकेतिक चित्र (फोटो क्रेडिट: LYFEMarketing)

ऑडियंस नेटवर्क को सक्षम करके, आप अपने CPR को काफी कम कर सकते हैं क्योंकि ऑडियंस नेटवर्क इंप्रेशन मछली पकड़ने वाले ग्राहकों के लिए एक बड़े समुद्र के रूप में काम करता है।

7. वीडियो मार्केटिंग

लोग रंग, ऑडियो क्लिप और विजुअल को पसंद करते हैं जो उनकी कल्पना को गति प्रदान करते हैं। जैसा कि आप पहले से ही जानते हैं, वीडियो सामान्य टेक्स्ट पोस्टों की तुलना में असाधारण रूप से आंख को पकड़ने वाले होते हैं।

फेसबुक ने इस प्रवृत्ति की पहचान की है और अपने एल्गोरिथ्म में वीडियो सामग्री को महत्व देता है। उन्होंने एक ऑटोप्ले फीचर भी जारी किया है।

जब आप फेसबुक पर वीडियो मार्केटिंग करते हैं, तो आपको यह सुनिश्चित करना चाहिए कि वीडियो पेचीदा और संक्षिप्त हैं। सामग्री मनोरंजक और ताज़ा होनी चाहिए और वायरल होने की क्षमता होनी चाहिए।

वीडियो को आपके दर्शकों को शिक्षित करना चाहिए। लेकिन दर्शकों को शिक्षित करने से पहले, आपको अपने संभावित दर्शकों के बारे में सीखना होगा। याद रखें, दर्शकों से ध्यान प्राप्त करने के लिए वीडियो के पहले दो सेकंड बहुत महत्वपूर्ण हैं।

यदि वीडियो को लोड होने में बहुत समय लगता है, तो दर्शकों के लिए कैंसिल या स्टॉप बटन पर क्लिक करने की संभावना है। अपनी सेवा या उत्पाद के लिए रोमांचक और नए उपयोग दिखाएं।

8. मैसेजेज का तुरंत रिप्लाई दें

फेसबुक पर बिजनेस पेज बनाने का मुख्य उद्देश्य ग्राहकों से जल्दी जुड़ना है।

इसलिए, उनके प्रश्नों और अनुरोधों का तेजी से जवाब देना आवश्यक है। लगातार आधार पर निजी संदेश बॉक्स की जांच करना सुनिश्चित करें। जब आप तेजी से प्रतिक्रिया करते हैं, तो आपके पास पेज पर उत्तरदायी टिकट प्राप्त करने की संभावना होती है।

आमतौर पर बिजनेस पेजों में देखे जाने वाले कुछ बैज आम तौर पर एक दिन के भीतर जवाब देते हैं और बहुत उत्तरदायी होते हैं।

फेसबुक कानूनों के अनुसार सभी प्रश्नों का जवाब देना अनिवार्य है, लेकिन जवाब देना ऐसे साक्ष्य के रूप में कार्य करता है, जिसकी आप देखभाल करते हैं और अपने ग्राहकों के प्रश्नों को महत्व देते हैं।

9. जानें कब करें पोस्ट

पेज पर कंटेंट या वीडियो पोस्ट करने के लिए कोई सख्त नियम नहीं हैं।

हालाँकि, कुछ डेटा से फेसबुक पर कंटेंट शेयर करने के लिए सही समय और दिन के बारे में कुछ दिलचस्प जानकारी का पता चलता है ताकि उच्च उपयोगकर्ता सहभागिता (high user engagement) को पकड़ा जा सके।

10. इंट्रेस्टिंग और इनोवेटिव बने रहें

केवल आपके बिजनेस प्रोडक्ट्स की मार्केटिंग से आपके फॉलोअर्स के निराश होने की संभावना है।

दिलचस्प समाचार या फैक्ट्स शेयर करते रहें, जो आपके उत्पाद को जोड़ता है। इस तरह, रिडर आपकी पोस्ट पर ध्यान देंगे और आपकी पोस्ट की जाँच के बाद उत्पादों को खरीदने पर भी विचार करेंगे।

k

सांकेतिक चित्र (फोटो क्रेडिट: Entrepreneur)

इन 10 प्रभावी फेसबुक मार्केटिंग टिप्स के साथ, आप आसानी से मास्टर कर सकते हैं और अपने व्यवसाय के लिए सबसे अच्छा recompenses प्राप्त कर सकते हैं।

Ummeed hai aapko hamari iss class mein jo bhi bataya gaya h, wo poori tarah se samjh mein aaya hoga…. Yadi haan toh hamari aage aane wali classes ko bhi join kare Aur apna feed…..Dhanyawaad.

hello guys aaj ki class me ham sikhne wale h ki Facebook Marketing Kya Hai? और इसका इस्तेमाल कैसे करते है? to start krte h

ham pahle is class ka ek overview dek lete h to ham padne wale h ki

1.Facebook Marketing Kya Hai? और इसका इस्तेमाल कैसे करते है?
2.फेसबुक मार्केटिंग के फायदे  (Advantages of Facebook Marketing)
3.(Brand Awareness increase करना और new customers को educate करने के लिए extremely useful होता है)
4.Challenges Faced in फेसबुक Marketing
5.Awareness through Facebook marketing
6.Reach Using Facebook Advertising
7.Website Traffic By Facebook Advertising
8.Lead Generation Through Facebook Advertising
9.What is Organic Reach?
(आर्गेनिक रीच क्या है ?)
10.ho see your content ?
( फेसबुक पर आपके कंटेंट को कौन देखता है )
11.How to increase Organic Reach?
( आर्गेनिक रीच को कैसे बढ़ाया जाए )
12.. कस्टम शोर्ट URL और Username बनाएँ

Aur bhi bahut kuch … toh class mein end tak bane rhe

to let’s start it

Social media marketing (FacebookInstagramLinkedin इत्यादि ) businesses के लिए हमेशा ही बहुत beneficial होता है चाहे वह छोटा business हो या बड़ा. 2004 में अपने launch के बाद से FB को लोगों ने बहुत positively embrace किया है. और यह बात बहुत से businesses को Facebook marketing के through अपने vast proportion of customers को attract करने की opportunity देती है. मगर Facebook ads के multiple advantages के साथ कई सारे challenges भी होते हैं. आज हम यहां उन्ही FB marketing के advantages और challenges के बारे में जानेंगे.

फेसबुक मार्केटिंग के फायदे  (Advantages of Facebook Marketing)

 The number of users on Facebook, especially in India is very high:

(FB पर number of users, especially India में काफी ज्यादा है)

Undoubtedly, FB 2.41 billion user account के साथ social media में सबसे बड़ा player है. और इनमे से 241 million तो सिर्फ India से ही है, जो हमे इसका largest user base बनाता है. यह platform आपको pages, groups, और ads के form में marketing के लिए multiple platforms देता है. इन सबमें से FB page एक individual या एक business को represent करने का एक most popular तरीका है.

Average time spent on Facebook is high:

(लोगों का फेसबुक पर average time spent high होता है)

One of the major advantages of FB है की आज के time पर 80% internet users इसे use करते है. यहां तक कि 65% of 65+ years adults भी. 80% teens भी सुबह उठते ही सबसे पहले अपना FB feed check करते हैं. और 96% users इसे mobile पर access करते हैं. अब इन सभी information के कारण आप जानते हैं कि आपकी maximum audience mobile users है तो आप अपने content को उसी according curate कर सकते हैं और उस तरह आपका आपके customers के attention को gain करने का chances भी काफी बढ़ जाएगा.

Extremely useful in increasing brand awareness and educating new customers:

(Brand Awareness increase करना और new customers को educate करने के लिए extremely useful होता है)

 Facebook ads आपके brand awareness को significantly build करेगा. ये एक बहुत ही अच्छा तरीका होता है लोगों को यह बताने का कि आपके पास offer करने को क्या है. लोग जितना ही ज्यादा आपके brand से familiar होंगे उतने ही ज्यादा chances हैं कि decision लेने के वक्त वह आपके product purchase करेंगे. Facebook advertising आपके customer attribution में भी बहुत help करती है. और यह बहुत जरूरी भी है क्योंकि जितनी बार आपके business के साथ आपकी audience interact करेगी, उनके convert होने की chances भी उतना ही ज्यादा बढ़ेंगे.

Can be used for engaging and targeting potential customers:

(इसे potential customers को target और engage करने के लिए use किया जा सकता है)

Facebook ads के पास एक unique facility होती है जो आपको demographics और interest के basis पर potential customers को target करना allow करती है. यह आपको उन customer को भी फिर से target करने के लिए enable करती है जिन्होंने पहले आपके site को visit किया था, ताकि आप अपने target audience को effectively narrow कर सकें. Facebook advertising आपके website traffic को boost कर सकता है और ये कई मायनों में बाकी sources से ज्यादा beneficial है.

Advertisement on FB is highly targeted, cheap and fast, and results are easily measurable:

(फेसबुक पर advertisement highly targeted, cheap और fast होते हैं और इनके results भी easily measurable होते हैं)

Facebook advertising एक most targeted form of advertising है. आप लोगों में age, interest, behavior और location के basis पर अपने business को advertise कर सकते हैं. इसके साथ साथ Facebook advertising काफी fast होती है, और यह immediate results drive करती है. आप एक ही दिन में एक साथ thousands लोगों तक reach कर सकते हैं, जिसकी वजह से यह one of the cheapest form of advertisement भी है.

क्या आपको भी Facebook Marketing में interest है ? तो enroll कीजिये हमारे Facebook Marketing Course में और पाईये 90% तक की Scholarship.

Challenges Faced in फेसबुक Marketing

Challenges Faced in Facebook Marketing

Technological requirement/skill requirement (Facebook marketing can be very complicated):

एक Facebook marketing challenge जो कई business persons को frustrate करता है वह है lack of technological know-how में gap. ऐसे कई CEOs हैं जिन्होंने अपना career और business major technological challenges आने से काफी पहले ही start किया था जिसके कारण उन्हें इसके बारे में सही knowledge नहीं है या कई ऐसे हैं जिनमें technological knowledge की कमी है. ऐसे में जब वह अपने colleagues, industry के उनके friends या/और analyst report को consult करते हैं तो उन्हें different sources से varied response और mostly incomplete knowledge ही मिलती है.

Still, many people are not on FB or are not very active on it:

(अभी भी बहुत से ऐसे लोग हैं जो या तो फेसबुक पर है ही नहीं या फिर वह इस पर ज्यादा active नहीं रहते हैं)

You know it’s a fact की दुनिया की around half population FB पर present ही नहीं है. India में भी यह number approx 1 billion लोग हैं. कई लोग हैं जिनको इस पर account बनाने के बाद अपने profile को update रखना पसंद नहीं, कई सारे ऐसे भी हैं जिनके लिए इस पर account बनाना ही necessary नहीं लगता. इन सबके अलावा world की एक significant proportion है जिनके पास अभी तक internet कि facility नहीं पहुंच सकी है. इन सब बातों के कारण हो सकता है आपके B2B marketing और sales campaign को Facebook marketing benefit ना करे.

See also  Performance Under Pressure part 1

Creation of goals and strategy:

(Goals और strategy create करना)

Goals और strategy यह तय करती है कि आप अपने brand को अपने लिए सही audience को product showcase करने की opportunity दें. ये जरूर हो सकता है कि आपको पता हो की आप क्या और क्यों accomplish करना चाहते हैं, मगर बिना किसी strategy के आपके पास कोई specific plan या कहें roadmap के बिना आपका आपके goals को achieve करना बेहद मुश्किल हो जाता है.

Creating regular and diversified content:

(Regular और diversified content create करना)

Facebook marketing में content एक बहुत ही important role play करता है. इससे फर्क नहीं पड़ता है कि आप किस तरह का ad format choose करते हैं, मगर marketing के लिए content बहुत ही essential है. यह text-based, visual or audio भी हो सकता है मगर जरूरी यह है कि आपको regular और diversified होना चाहिए. और इससे भी ज्यादा जरूरी है आपके content को आपकी brand values और Facebook marketing goals के साथ inlined होना चाहिए. अगर आपके पास content नहीं है तो आपके पास इस पर amplify करने को कुछ भी नहीं है और लोग आपके sales message और special offers से बहुत जल्दी ही tired हो जाएंगे.

Gaining customer attention:

(Customers का attention gain करना)

FB पर कई different type के post होते है. कुछ ऐसे होते है जो audience को annoy कर सकते है, और कुछ होते है जो उन्हें engage कर सकते है. कुछ तो हो सकता है audience तक पहुंचे भी नहीं क्योंकि इसने अपने news feed में बहुत से changes लाए है. और इतना ही नहीं, FB पर thousands of brands है जो users के attention के लिए compete कर रहे है. इसकी वजह से बहुत noise create होता है जिसकी वजह से आपके business का stand out कर पाना और भी मुश्किल हो जाता है चाहे आपका content आपके audience कि feed में organically appear हो रहा हो या paid capacity में.

यहाँ हमने आपको FB के फायदों(advantages) के साथ ही उनसे जुडी चुनौतियों (challenges) के बारे में भी बताया। लेकिन एक बात तो साफ़ है की Facebook Marketing के लिए बेहद जरूरी है और ख़ास कर के छोटे व्यवसाय(small businesses) के लिए । ये इन small businesses को बड़े Brands से मुकाबला कर अपनी Market बनाने का मौका देता है।

Top 7 Facebook Ads Marketing Objectives For Your Business in Hindi

आपको भी Facebook advertising के लिए marketing objective decide करना confusing लगता है? आप समझ नहीं पाते कि Facebook advertising का क्या use है? Facebook के help से आप अपने business के लिए marketing कैसे कर सकते हैं? अगर हां, तो आप अकेले नहीं है. Facebook पे  Marketing करते हुए Challenges का आना बड़ी ही common बात है. Most of the people इस जगह stumble करते हैं.

” The aim of marketing is to know & understand the customer so well the product or service with him & sells itself. “

जब आप अपने business के लिए एक Facebook ad campaign objective choose करते हैं तब आप FB  को बता रहे होते हैं कि आप क्या result देखना चाहते हैं, या आप क्या चाहते हैं कि आपके users कौन से actions ले. यह सब इस चीज को impact करेगा कि आप किन actions को optimize करना चाहते हैं, आप किस चीज के लिए pay करेंगे, और यहां तक कि किस तरह के creative options आपके लिए available है. 

इस article में हम 7 major Facebook ad campaign objectives  for our business के बारे में जानेंगे. और साथ ही सारे objectives को clear explanations के साथ break down करेंगे ताकि आप अपने Facebook marketing strategy को सही तरीके से plan कर सके. So let’s get started.

.

Awareness through Facebook marketing

Facebook Brand Awareness

Facebook marketing का ये objective users को आपके product या service के बारे में knowledge देकर interest generate करने का काम करता है. इस objective के help से आपके brand को उन लोगों तक पहुंचाया जाता है जो आपके potential customer तो हो सकते हैं मगर अभी आपके brand और products से जुड़ी कोई जानकारी नहीं रखते हैं. इस objective के साथ, आपके पास करने को दो options होते हैं-

I) Local awareness This objective of Facebook marketing is for small business generally. ये आप उन potential customers को reach करने के लिए use करते हैं जो आपके business के नजदीक available हो. इसकी काफी limited targeting होते हैं (जैसे age, gender, और radius from your business)

II) Brand awareness  – यह उन लोगों को reach करने के लिए होता है जिनके आपके adverts पर ध्यान देने के ज्यादा chances होते हैं. इस objective का बेहतर result relatively larger businesses के लिए ज्यादा positive रहता है क्योंकि वो pure branding only campaigns run करना afford कर सकते हैं.

Reach Using Facebook Advertising

This objective of Facebook advertising for your business maximizes number of people जो आपके ads को देखते हैं और साथ ही यह number of times को भी maximize करता है जब लोग आपके ads को देखें. Plain और simple words में यह आपके digital marketing के exposure को maximize करने की कोशिश करता है. Unlike other Facebook advertising campaigns, आप इसकी frequency को control कर सकते हैं. इसे frequency capping कहते हैं. यह objective आपके लिए particularly तब ज्यादा useful होगी जब आपके पास smaller audience size हो, और आप चाहते हो कि सभी आपके ads को देखें. क्योंकि हो सकता है यह आपके brand को exposure देने का एक cheap way हो, but इसे quantify करना बहुत मुश्किल होता है- especially तब जब आपका sales cycle इतना लंबा हो कि Facebook conversions को accurately देख ही ना सके

Facebook Consideration Advertising

Facebook Consideration Hindi

ये objective आपकी target audience  को आपके business के बारे में सोचने पर और उससे related information जुटाने के लिए encourage करता है. यह आपके potential customers को आपके product और services खरीदने के लिए influence करता है.

Website Traffic By Facebook Advertising

Website Traffic By Facebook Hindi

इस objective को अपने Facebook campaign का part बना कर आप clicks को use करते हैं ताकि आप लोगों को अपने website की तरफ send कर सकें. यह आपको अपने prospects को educate करने के साथ-साथ time पर remarketing list build करने में help करता है. Traffic objective के साथ आपके पास different bidding options होते हैं. यह एक CPM model होता है, और even though आपका target link clicks होता है, मगर आपके पास इसको “pay per link click” में change करने का option भी होता है. आप alternatively इन options पर भी bid कर सकते हैं-

  1. Landing page,
  2. Impressions, और
  3. Daily unique reach

Facebook Post Engagement:

facebook post engegement hindi

Post engagement objective का main goal होता है to drive engagement. FB आपके audience में उन लोगों को ही आपके ads दिखाएगा जो most likely आपसे engage करेंगे. Engagement campaign आपको serve कर सकता है as:

  1. Remarketing pool बनाने के cheap way में.
  2. Social proof build करने के way में.

इस objective को आप post engagement, impressions, या reach को optimize करने के लिए भी use कर सकते हैं. इसकी help से आप ज्यादा बेहतर तरीके से एक larger set of audience को reach कर पाएंगे. 

Lead Generation Through Facebook Advertising

Facebook Lead Generation Hindi

ये objective आपके business के लिए एक versatile Facebook advertising strategy prove हो सकता है. इस objective को use करके आप एक form create कर सकते हैं जो लोगों से information collect करेगा जैसे newsletters के लिए sign-ups, price estimate, follow up calls, etc. आप 3 ways में इसको approach कर सकते हैं:

  1. Top-funnel (Low intent audience): ये आप awareness level content के लिए downloads drive करने के लिए use करेंगे, और वह भी email list साथ में build करते हुए.
  2. Mid-funnel: Mid-funnel content के exchange में downloads drive करने के लिए.

III) Low-funnel (High intent audience): इसे आप requests के pricing/quote के लिए, coupons drive करने के लिए, या promotions को access करवाने के लिए use कर सकते हैं.

क्या आपको भी Facebook Marketing में interest है ? तो enroll कीजिये हमारे Facebook Marketing Course में और पाईये 90% तक की Scholarship.

Conversions Through Facebook Ads

Facebook Conversion Hindi

ये objective almost हर company या brand के Facebook marketing strategy का part होती है. और इसलिए यह most widely used objective है. इसका काम होता है website पर conversions को promote करना इसे आप तब अपने Facebook advertising strategy का part बना सकते हैं जब आप लोगों को अपने website की तरफ drive करना चाहते हो ताकि वह specific actions ले जैसे webinar के लिए signup करना, guide download करना या कोई product purchase करना. यह सब से बेहतर तरीके से तब काम करता है जब:

  1. जब audience low-funnel हो और convert होने को तैयार हो (Eg.- Remarketing).
  2. जब audience high-funnel हो मगर product या service को थोड़े से consideration की जरूरत हो.
  3. जब audience high-funnel हो और जो conversion optimize किया जा रहा हो वह भी high-funnel हो.

Conversion objectives को data की जरूरत पड़ती है ताकि वह बेहतर तरीके से खुद को optimize कर सकें. तो कुछ बातें हैं जिनका आप को ध्यान रखना चाहिए-

  1.  Audiences को बहुत ज्यादा भी segment नहीं करें.
  2. बहुत ज्यादा lofty conversion type set ना करें.

Facebook Organic Reach क्या है? और इसे कैसे बढ़ाया (Increase) जाए ?

Facebook पर Organic Reach increase करने का question अक्सर लोगों को और ख़ास कर के companies को परेशान करता रहा है. Facebook पर लोगों तक पहुँचना हर बार easy नहीं होता. ये companies के लिए कई बार काफी frustrating हो जाता है की वो काफी efforts लगा के भी लोगों तक अपना content पहुंचाने में सफल नहीं हो पाते. ऐसा क्यों होता है की कई बार कोई company बोहोत सारा पैसा लगा के भी फेसबुक पे लोगो को जोड़ने में और engage करने में असफल होती हैं और दूसरी तरफ एक company बिना एक भी पैसा खर्च करे न केवल नए लोगो को attract करने में कामयाब होती है इसके साथ ही उनका content भी audiences के बीच पॉपुलर होता है. यहाँ हम इसी सवाल का जवाब देने की कोशिश करेंगे.

What is Organic Reach?
(आर्गेनिक रीच क्या है ?)

Organic Reach On Facebook

आपने marketing में page की organic-reach की importance के बारे में तो सुना ही होगा. तो हम बात करेंगे की इस से related हम क्या कर सकते हैं की better results दिखाई दें.
इसका मतलब है की कितने लोगों तक आप free में पहुँच सकते हैं अपने page पे कुछ post करके. इसका opposite होता है paid reach,जो की नाम में ही clear है की हम पैसे देके advertisement के through अपने कंटेंट की पहुँच को increase कर रहे हैं.

Who see your content ?
( फेसबुक पर आपके कंटेंट को कौन देखता है )

जिन लोगों ने आपको Like या follow किया हुआ वो उनको आपकी posts अपनी News feed में दिखती हैं या फिर कोई आपकी Profile खोल के आपकी recent posts देख सकता है .
असल में जिन लोगों ने आपके पेज को follow या like करा हुआ है वो आपकी सारी posts को अपनी news feed में नहीं देखते. उनको probably आप जो कुछ भी publish कर रहे है उसका एक fraction ही दिखाई देता है. ये इसलिए है क्यूंकि Facebook अपने खुदके complex formulas उसे करता है, FB का खुद का algorithm है जो ये decide करता है की किसको कोनसा post show करना है, जो की based होता है उस user के अलग अलग contents के interactions पर. ये इसकी algorithm है .

How to measure Organic Reach?
(आर्गेनिक रीच को कैसे माप सकते हैं ?)

इसे improve करने के बारे में understand करने के लिए आपको पहले ये understand करना पड़ेगा की इसको measure कैसे करें. इसके लिखे आप Insights tab की help ले सकते हैं, जो आपके page के top में होता है उसमें दिए गए data को study करें. Page insights paid और unpaid reach को separate करके data देता है. जिससे के आप unpaid posts की strategy एक effective तरीके से manage कर सकें. इसके लिए आप कुछ important data को study करें.

तो Insights में Reach category के under आप देखेंगे की page ने unpaid reach में high spike दिया है जिस्का मतलब है की बिना कोई पैसे दिए आपकी पहुँच increase हुई है.. Basically कब आपकी पहुँच बिना की paise दिए सबसे ज्यादा थी. फिर दूसरा आप Insights के under Posts category में जाके देख सकते हैं किस post से ये spike हुई है. आपके अपने कंटेंट में, जो की most unpaid reach वाले posts है, उसको study करना चाहिए. identify करने के लिए की ये इतने लोगों तक कैसे पहुंच पाया.
ये आपके काफी inputs दे सकते हैं की किस तरीके का कंटेंट आपके fans को पसंद आ रहा है , या किस तरीके की posts आपको और create करना चाइये. Organic-reach बेहद valuable है और अब आपको भी idea लग गया होगा की अपने posts को कैसे study करें और optimise करे जिससे की ये maximise हो सके.

अगर आपको भी में Facebook Marketing में इंटरेस्ट है और अपनी Organic Reach बढ़ाना चाहते है तोह हमारे  Facebook Marketing Course में आज ही एनरोल करवाए और Upto 90% off की Scholarship पाए |

How to increase Organic Reach?
( आर्गेनिक रीच को कैसे बढ़ाया जाए )

How to improve Facebook Organic Reach

तो इसकी key है engagement and sharing क्यूंकि Facebook ऐसे post को reward करता है जो engagement and sharing promote करते हैं. इसी लिए आपको simply interact करना है अपने page के through, इससे आपकी पहुंच increase होगी. क्या आपको पता हैं की आपके followers ये भी ensure कर सकते हैं की वो हमेशा सबसे पहले आपका content ही देखें. आप अपने super fans को guide करें ऐसा करने के लिए.
इसके लिए आपके fans को guide करना होगा की वो आपके Page के following tab की drop-down menu में see first पे click करे.

एक simple strategy जो एक mediocre business page और एक great results achieving asset में difference create कर सकता है. आपके content का focus engagement पे होना चाहिए. Idea तो बोहोत है simple है पर इसे implement कैसे करना है. अपने ideal customer के बारे में सोचके और उसके according अपने content को tailor करिये जिससे आपके उनसे interaction मिल सके. याद रहे, आपका goal है हर post से जितनी हो सके most possible conversation और engagement को जोड़ना.

किस प्रकार की पोस्ट पर लोग कमेंट करते हैं?

लोगों को ऐसी posts पे comment करना पसंद है जिनसे वो relate कर सकें. तो इसके लिए ऐसे topic पे dialogue शुरू कर सकते है जो business से related तो हो लेकिन आपके targeted client के लिए highly relatable हो. For example, work-life balance और Time management जैसे topic बेहतरीन conversation starters हैं.
आप अपने FB पे हमेशा अपनी company के बारे में बात करना नहीं चाहेंगे, तो कोशिश करें अपनी industry से related relevant news dene की जो आपके लगता है की conversation शुरू कर सकती है. या आप बात कर सकते हैं ऐसी news या events के बारे में जो आपके business या clients को affect कर सकती है.

वैसे तो engagement की ये काफी common practice हो गयी है लेकिन Facebook अब नहीं चाहता की आप अपनी post पे likes, shares or comments के लिए appeal करें. बल्कि ये अब ऐसे content को penalize करता है जो ऐसी spam जैसी wording का use करते हैं. आप question पूछ सकते हैं, या कोई direction दे सकते हैं लेकिन अपने followers को ये मत बताइये की उनको आपसे interact कैसे करना है. और एक post पे multiple hashtags का भी use न करें. FB Instagram के जैसे behave नहीं करता और आपकी engagement उल्टा कम हो जाएगी अगर multiple hashtags use करेंगें तो.
Facebook की algorithm ऐसे content को strongly favor करती hai जो meaningful conversation initiate कर सके. तो agar आप इससे सही से use करेंगे to ये काफी beneficial हो सकती है

फेसबुक के जरिए करें अपने बिजनेस की मार्केटिंग, ये 10 ज़रूरी टिप्स करेंगे आपकी मदद

हाल ही में Pinterest और Snapchat जैसे सोशल मीडिया कॉम्पीटेटर्स के बावजूद, अगर यूजर्स के साथ जुड़ने की बात की जाए तो फेसबुक सबसे लोकप्रिय प्लेटफॉर्म बना हुआ है।

यूजर के फोकस को आकर्षित करने और कम समय में नए ग्राहकों तक पहुंचने के लिए इसकी क्षमता के कारण अधिकांश व्यवसाय मालिकों द्वारा इसे पसंद किया जाता है। कई आंकड़ों से पता चला है कि लोग हर एक दिन फेसबुक और उससे जुड़े एप्लिकेशन की जांच करते हैं।

जैसा कि फेसबुक की अब व्यापक पहुंच है, कोई भी छोटा बिजनेसमैन या आंत्रप्रेन्योर जो अपने बिजनेस को शुरू करने या मजबूत ऑनलाइन उपस्थिति विकसित करने की तलाश में हैं, उन्हें निश्चित रूप से फेसबुक को अपनी सोशल मीडिया मार्केटिंग स्ट्रेटैजी का हिस्सा बनाना चाहिए।

फेसबुक मार्केटिंग में पहला और सबसे महत्वपूर्ण कदम अपने बिजनेस के लिए एक प्रोफेशनल बिजनेस पेज बनाना है। याद रखें, केवल एक बिजनेस बैकग्राउंड शुरू करने से, आपका बिजनेस बड़ा नहीं हो सकता।

अपने पेज को नियमित आधार पर अपडेट करना और अपने दर्शकों को आकर्षित करने, उन्हें लीड में बदलने और उन्हें ग्राहकों में बदलने के लिए सभी गर्म रणनीतियों का उपयोग करना आवश्यक है।

अब, यहां जानिए मार्केटिंग के लिए फेसबुक का उपयोग करने के 10 सर्वश्रेष्ठ तरीके:

1. प्रोफेशनल बिजनेस पेज बनाएं

अधिकांश आंत्रप्रेन्योर व्यक्तिगत (पर्सनल) प्रोफाइल पेज के समान कुछ हद तक एक व्यावसायिक (प्रोफेशनल) पेज बनाने की गलती करते हैं। यदि आप एक सामान्य फेसबुक पेज बना रहे हैं और अपने व्यवसाय का विवरण और नाम जोड़ते हैं, तो इसे प्रोफेशनल पेज नहीं माना जाता है।

फेसबुक प्रोफेशनल पेजेज और व्यक्तिगत (पर्सनल) पेजों को अलग करता है। एक पेशेवर और समर्पित बिजनेस पेज बनाना आवश्यक है।

पेज बनाने के लिए, आपको पेज बनाएँ (select the Pages) विकल्प पर क्लिक करने के बाद फेसबुक पर पेज सेक्शन का चयन करना होगा। प्रोफेशनल पेज बनाने के कुछ लाभ इस प्रकार हैं:

  • प्रोफेशनल पेज में स्पेशल फीचर्स और टूल्स होते हैं जो आपकी व्यावसायिक आवश्यकताओं को मैनेज करने में मदद करते हैं।
  • यह आपके प्रशंसकों को ऑटोमेटिक आपके पेज की मेंबरशिप लेने की अनुमति देता है और आपके पेज के बारे में अपडेट भी प्राप्त करता है।
  • यह आपकी ब्रांड प्रोफाइल को बढ़ाता है और ग्राहकों के साथ विश्वास स्थापित करता है।

2. कवर फ़ोटो जोड़कर ध्यान आकर्षित करें

एक फोटो एक हजार शब्दों को व्यक्त कर सकती है। सर्वश्रेष्ठ कवर फ़ोटो को जोड़कर अपने व्यवसाय के उद्देश्य और लक्ष्य को साझा करें।

फेसबुक बिजनेस पेज के कवर के रूप में 851 x 315 पिक्सल वाली फोटो लगाएं। जब आप बिजनेस पेज के लिए कवर फोटो अपलोड कर रहे हैं, तो आपको कुछ बिंदुओं को ध्यान में रखना होगा।

  • कवर इमेज के मोबाइल लुक पर ध्यान दें।
  • फोटो के कवर के नीचे उससे संबंधित पोस्ट पिन करें।
  • कवर फोटो के लिए सही अलाइनमेंट का उपयोग करें।

Ummeed h ki class aapko pasand aa rahi hogi to bane rahiye class me our sikte rahiye to jante h

3. कस्टम शोर्ट URL और Username बनाएँ

फेसबुक पर प्रोफेशनल बिजनेस पेज बनाते समय, यह आपके पेज के लिए एक random URL प्रदान करता है। हम सुझाव देते हैं कि आप अपने पेज के लिए random URL का उपयोग करने के बजाय कस्टम शोर्ट URL बनाएं।

उदाहरण के लिए, आप अपने बिजनेस के नाम से URL बना सकते हैं। एक URL निम्नलिखित तरह से सहायता करता है:

  • सर्च इंजन के परिणामों में सुधार करता है।
  • ग्राहकों में विश्वास और ब्रांड जागरूकता बढ़ाता है।
  • URM टूल और लिंक रिटारगेटिंग के साथ Integrate करता है।
  • आप अपने SEO को बेहतर बनाने के लिए कीवर्ड्स को टारगेट करके वैनिटी URL को भी ऑप्टिमाइज़ कर सकते हैं।
k

सांकेतिक चित्र (फोटो क्रेडिट: WishpondBlog)

4. अपने बिजनेस के बारे में ‘About’ Section तैयार करें

अपने संभावित ग्राहकों को आपके व्यवसाय के बारे में सूचित करने के सर्वोत्तम तरीकों में से ‘About’ section एक प्रभावी तरीका है।

आपको उन उत्पादों या सेवाओं के बारे में उल्लेख करना चाहिए जिनकी आप पेशकश कर रहे हैं। फेसबुक पर लगभग यह टैब बिजनेस पेज के बाईं ओर स्थित है। विजिटर ‘About’ Section में आपकी सेवाओं और उत्पादों, इंस्टाग्राम पेज, अनुभव, हाल के ग्राहकों, वेबसाइट URL और संपर्क विवरण के बारे में अधिक सीखते हैं।

फेसबुक बिजनेस पेज में ऐसे वर्गों का पूरी तरह से उपयोग करके स्मार्ट बने रहें।

5. फेसबुक पिक्सल का उपयोग करें

इसमें कोडिंग की एक line शामिल है जिसे आप वेबसाइट पर install कर सकते हैं ताकि वेबसाइट के विजिटर के micro conversions, conversions और behavior को ट्रैक कर सकें।

Facebook Pixel आपको Facebook Ads के लिए कस्टम ऑडियंस बनाने में मदद करता है।

इसके जरिए, आप फेसबुक पर प्रचार प्रसार कर सकते हैं और वेबसाइट पर विजिटर्स के सामने विज्ञापन प्रदर्शित कर सकते हैं क्योंकि वे अपने मोबाइल फोन या पीसी का उपयोग करके सोशल नेटवर्क के माध्यम से ब्राउज़ कर रहे हैं। Facebook Pixel आपकी वेबसाइट पर आने वाले किसी भी व्यक्ति का पता लगाता है कि वे किस रेफरल सोर्स में आते हैं।

इसके कारण, रिटारगेटिंग आपके संपूर्ण मार्केटिंग एक्सर्ट को अन्य प्लेटफॉर्म्स से भी reinforce करता है।

6. फेसबुक ऑडियंस नेटवर्क

फ़ेसबुक मैसेंजर, इंस्टाग्राम सहित प्लेटफ़ॉर्म के अलावा कई अन्य ऐप पर विज्ञापन प्रदर्शित करता है और इसे फ़ैन या फ़ेसबुक नेटवर्क के रूप में जाना जाता है।

आप फेसबुक एड मैनेजर में देखे गए स्थानों के रूप में निर्दिष्ट विकल्पों के रूप में अपने विज्ञापन दिखाने के लिए प्लेटफॉर्म का चयन करने में सक्षम होंगे। आप फेसबुक विज्ञापनों पर सैकड़ों डॉलर खर्च कर रहे होंगे।

तो, यह आपके दर्शकों के नेटवर्क पर विज्ञापन दिखाने के लिए स्मार्ट है। ऑडियंस नेटवर्क महत्वपूर्ण रूप से पहुंच बढ़ाता है। यह देशी विज्ञापन प्रदान करता है जो कि उपयोगकर्ता इसे विज्ञापनों की तरह अनुभव नहीं कर सकते हैं। यह कई प्लेटफार्मों और उपकरणों पर उपभोक्ताओं का अनुसरण करने के लिए विज्ञापनों की अनुमति देता है।

k

सांकेतिक चित्र (फोटो क्रेडिट: LYFEMarketing)

ऑडियंस नेटवर्क को सक्षम करके, आप अपने CPR को काफी कम कर सकते हैं क्योंकि ऑडियंस नेटवर्क इंप्रेशन मछली पकड़ने वाले ग्राहकों के लिए एक बड़े समुद्र के रूप में काम करता है।

7. वीडियो मार्केटिंग

लोग रंग, ऑडियो क्लिप और विजुअल को पसंद करते हैं जो उनकी कल्पना को गति प्रदान करते हैं। जैसा कि आप पहले से ही जानते हैं, वीडियो सामान्य टेक्स्ट पोस्टों की तुलना में असाधारण रूप से आंख को पकड़ने वाले होते हैं।

फेसबुक ने इस प्रवृत्ति की पहचान की है और अपने एल्गोरिथ्म में वीडियो सामग्री को महत्व देता है। उन्होंने एक ऑटोप्ले फीचर भी जारी किया है।

जब आप फेसबुक पर वीडियो मार्केटिंग करते हैं, तो आपको यह सुनिश्चित करना चाहिए कि वीडियो पेचीदा और संक्षिप्त हैं। सामग्री मनोरंजक और ताज़ा होनी चाहिए और वायरल होने की क्षमता होनी चाहिए।

वीडियो को आपके दर्शकों को शिक्षित करना चाहिए। लेकिन दर्शकों को शिक्षित करने से पहले, आपको अपने संभावित दर्शकों के बारे में सीखना होगा। याद रखें, दर्शकों से ध्यान प्राप्त करने के लिए वीडियो के पहले दो सेकंड बहुत महत्वपूर्ण हैं।

यदि वीडियो को लोड होने में बहुत समय लगता है, तो दर्शकों के लिए कैंसिल या स्टॉप बटन पर क्लिक करने की संभावना है। अपनी सेवा या उत्पाद के लिए रोमांचक और नए उपयोग दिखाएं।

8. मैसेजेज का तुरंत रिप्लाई दें

फेसबुक पर बिजनेस पेज बनाने का मुख्य उद्देश्य ग्राहकों से जल्दी जुड़ना है।

इसलिए, उनके प्रश्नों और अनुरोधों का तेजी से जवाब देना आवश्यक है। लगातार आधार पर निजी संदेश बॉक्स की जांच करना सुनिश्चित करें। जब आप तेजी से प्रतिक्रिया करते हैं, तो आपके पास पेज पर उत्तरदायी टिकट प्राप्त करने की संभावना होती है।

आमतौर पर बिजनेस पेजों में देखे जाने वाले कुछ बैज आम तौर पर एक दिन के भीतर जवाब देते हैं और बहुत उत्तरदायी होते हैं।

फेसबुक कानूनों के अनुसार सभी प्रश्नों का जवाब देना अनिवार्य है, लेकिन जवाब देना ऐसे साक्ष्य के रूप में कार्य करता है, जिसकी आप देखभाल करते हैं और अपने ग्राहकों के प्रश्नों को महत्व देते हैं।

9. जानें कब करें पोस्ट

पेज पर कंटेंट या वीडियो पोस्ट करने के लिए कोई सख्त नियम नहीं हैं।

हालाँकि, कुछ डेटा से फेसबुक पर कंटेंट शेयर करने के लिए सही समय और दिन के बारे में कुछ दिलचस्प जानकारी का पता चलता है ताकि उच्च उपयोगकर्ता सहभागिता (high user engagement) को पकड़ा जा सके।

10. इंट्रेस्टिंग और इनोवेटिव बने रहें

केवल आपके बिजनेस प्रोडक्ट्स की मार्केटिंग से आपके फॉलोअर्स के निराश होने की संभावना है।

दिलचस्प समाचार या फैक्ट्स शेयर करते रहें, जो आपके उत्पाद को जोड़ता है। इस तरह, रिडर आपकी पोस्ट पर ध्यान देंगे और आपकी पोस्ट की जाँच के बाद उत्पादों को खरीदने पर भी विचार करेंगे।

k

सांकेतिक चित्र (फोटो क्रेडिट: Entrepreneur)

इन 10 प्रभावी फेसबुक मार्केटिंग टिप्स के साथ, आप आसानी से मास्टर कर सकते हैं और अपने व्यवसाय के लिए सबसे अच्छा recompenses प्राप्त कर सकते हैं।

Ummeed hai aapko hamari iss class mein jo bhi bataya gaya h, wo poori tarah se samjh mein aaya hoga…. Yadi haan toh hamari aage aane wali classes ko bhi join kare Aur apna feed…..Dhanyawaad.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *