1what is digital marketing? #done

Table of Contents

introduction:

What is Digital Marketing in Hindi? – आज के युग में सब ऑनलाइन हो गया है। इंटरनेट ने हमारे जीवन को बेहतर बनाया है और हम इसके माध्यम से कई सुविधाओं का आनंद केवल फ़ोन या लैपटॉप के ज़रिये ले सकते है।

Online shopping, Ticket booking, Recharges, Bill payments, Online Transactions (ऑनलाइन शॉपिंग, टिकट बुकिंग, रिचार्ज, बिल पेमेंट, ऑनलाइन ट्रांसक्शन्स) आदि जैसे कई काम हम इंटरनेट के ज़रिये कर सकते है । इंटरनेट के प्रति Users के इस  रुझान की वजह से बिज़नेस Digital Marketing (डिजिटल मार्केटिंग) को अपना रहे है ।

यदि हम market stats की ओर नज़र डालें तो लगभग 80% shoppers किसी की product को खरीदने से पहले या service लेने से पहले online research करते है । ऐसे में किसी भी कंपनी या बिज़नेस के लिए डिजिटल मार्केटिंग महत्वपूर्ण हो जाती है।  tho isssh class mai hum digital marketing kya hai sikhege.

tho hum issh class kya padhne waale hai, ek overview dekh lete hai..

1.डिजिटल मार्केटिंग क्यो आवश्यक है ? [Importance of Digital Marketing in Hindi]

2.वर्तमान समय में डिजिटल मार्केटिंग की मांग – [Future of Digital Marketing in Hindi].

3.डिजिटल मार्केटिंग के प्रकार [Types of Digital Marketing].

4.सर्च इंजन औप्टीमाइज़ेषन या SEO

5.सोशल मीडिया (Social Media).

thanks for watching the class intro, agar aapko intrest hai tho class join kare. see u in the class.

What is Digital Marketing in Hindi? – आज के युग में सब ऑनलाइन हो गया है। इंटरनेट ने हमारे जीवन को बेहतर बनाया है और हम इसके माध्यम से कई सुविधाओं का आनंद केवल फ़ोन या लैपटॉप के ज़रिये ले सकते है।

Online shopping, Ticket booking, Recharges, Bill payments, Online Transactions (ऑनलाइन शॉपिंग, टिकट बुकिंग, रिचार्ज, बिल पेमेंट, ऑनलाइन ट्रांसक्शन्स) आदि जैसे कई काम हम इंटरनेट के ज़रिये कर सकते है । इंटरनेट के प्रति Users के इस  रुझान की वजह से बिज़नेस Digital Marketing (डिजिटल मार्केटिंग) को अपना रहे है ।

यदि हम market stats की ओर नज़र डालें तो लगभग 80% shoppers किसी की product को खरीदने से पहले या service लेने से पहले online research करते है । ऐसे में किसी भी कंपनी या बिज़नेस के लिए डिजिटल मार्केटिंग महत्वपूर्ण हो जाती है।  

डिजिटल मार्केटिंग का तात्पर्य क्या है? [Digital Marketing Kya Hai?]

अपनी वस्तुएं और सेवाओं की डिजिटल साधनो से मार्केटिंग करने की प्रतिक्रिया को डिजिटल मार्केटिंग कहते है ।डिजिटल मार्केटिंग इंटरनेट के माध्यम से करते हैं । इंटरनेट, कंप्यूटर,  मोबाइल फ़ोन , लैपटॉप , website adertisements या किसी और applications द्वारा हम इससे जुड सकते हैं।

1980 के दशक में सर्वप्रथम कुछ प्रयास किये गये डिजिटल मार्किट को स्थापित करने में परंतु यह सम्भव नही हो पाया । 1990 के दशक मे आखिर मे इसका नाम व उपयोग शुरु हुआ।

डिजिटल मार्केटिंग नये ग्राहकों तक पहुंचने का सरल माध्यम है। यह विपणन गतिविधियों को पूरा करता है। इसे ऑनलाइन मार्केटिंग भी कहा जा सकता है। कम समय में अधिक लोगों तक पहुंच कर विपणन करना डिजिटल मार्केटिंग है। यह प्रोध्योगीकि विकसित करने वाला विकासशील क्षेत्र है।

डिजिटल मार्केटिंग से उत्पादक अपने ग्राहक तक पहुंचने के साथ ही साथ उनकी गतिविधियों, उनकी आवश्यकताओं पर भी दृष्टी रख सकता है। ग्राहकों का रुझान किस तरफ है, ग्राहक क्या चाह रहा है, इन सभी पर विवेचना डिजिटल मार्केटिंग के द्वारा की जा सकती है। सरल भाषा में कहें तो डिजिटल मार्केटिंग डिजिटल तकनीक द्वारा ग्राहकों तक पहुंचने का एक माध्यम है।

डिजिटल मार्केटिंग क्यो आवश्यक है ? [Importance of Digital Marketing in Hindi]

यह आधुनिकता का दौर है और इस आधुनिक समय में हर वस्तु में आधुनिककरन हुआ है। इसी क्रम में इंटरनेट भी इसी आधुनिकता का हिस्सा है जो जंगल की आग की तरह सभी जगह व्याप्त है। डिजिटल मार्केटिंग इंटरनेट के माध्यम से कार्य करने में सक्षम है।

आज का समाज समय अल्पता से जूझ रहा है, इसलिये डिजिटल मार्केटिंग आवश्यक हो गया है। हर व्यक्ति इंटरनेट से जुड़ा है वे इसका  उपयोग हर स्थान पर आसानी से कर सकता  है । अगर आप किसी से मिलने को कहो तो वे कहेगा मेरे पास समय नही है, परंतु सोशल साइट पर उसे आपसे बात करने में कोई समस्या नही होगी । इन्ही सब बातों को देखते हुए डिजिटल मार्केटिंग इस दौर में अपनी जगह बना रहा है ।

जनता अपनी सुविधा के अनुसार इंटरनेट के जरिये अपना मनपसंद व आवश्यक सामान आसानी से प्राप्त कर सकती है । अब बाज़ार जाने से लोग बचते हैं ऐसे में डिजिटल मार्केटिंग बिज़नेस को अपने products और services लोगो तक पहुंचाने में मदद करती है। डिजिटल मार्केटिंग कम समय में एक ही वस्तु के कयी प्रकार दिखा सकता है और उप्भोक्ता को जो उपभोग पसंद है वे तुरंत उसे ले सकता है।  इस माध्यम से उपभोकता का बाज़ार जाना वस्तु पसंद करने, आने जाने में जो समय लगता है वो बच जाता है ।

ये वर्तमान काल में आवश्यक हो गया है । व्यापारी को भी व्यापार  में मदद मिल रही है। वो भी कम समय में अधिक लोगो से जुड़ सकता है और अपने उत्पाद की खूबियाँ उपभोक्ता तक पहुँचा सकता  है।

वर्तमान समय में डिजिटल मार्केटिंग की मांग – [Future of Digital Marketing in Hindi]

डिजिटल मार्केटिंग क्या है?

वर्तमान समय में डिजिटल मार्केटिंग की मांग|

परिवर्तन जीवन का नियम है , यह तो आप सब जानते ही हैं। पहले समय में और आज के जीवन में कितना बदलाव हुआ है और आज इंटरनेट का जमाना है । हर वर्ण के लोग आज इंटरनेट से जुड़े है,  इन्ही सब के कारण सभी लोगो को एक स्थान पर एकत्र कर पाना आसान है जो पहले समय में सम्भव नही था । इंटरनेट के जरिये हम सभी व्यवसायी और ग्राहक का तारतम्य स्थापित भी कर सकते हैं।

डिजिटल मार्केटिंग की मांग वर्तमान समय में बहुत प्रबल रुप में देखने को मिल रही है। व्यापारी जो अपना सामान बना रहा है , वो आसानी से ग्राहक तक पहुंचा रहा है।  इससे डिजिटल व्यापार को बढ़ावा मिल रहा है ।

पहले विज्ञापनो का सहारा लेना पड़ रहा था। ग्राहक उसे देखता था, फिर पसंद करता था , फिर वह उसे खरीदता था। परंतु अब सीधा उपभोक्ता तक सामान भेजा जा सकता है । हर व्यक्ति गूगल, फेसबुक , यूट्यूब आदि उपयोग कर रहा है, जिसके द्वारा व्यापारी अपना उत्पाद-ग्राहक को दिखाता है । यह व्यापार सबकी पहुंच में है- व्यापारी व उपभोक्ता की भी।

हर व्यक्ति को आराम से बिना किसी परिश्रम के प्रतयेक  उपयोग की चीज़ मिल जाती है। व्यापारी को भी यह सोचना नही पड़ता कि वह अखबार, पोस्टर, या विज्ञापन का सहारा ले। सबकी सुविधा के मद्देनजर इसकी मांग है। लोगों का विश्वास भी डिजिटल मार्किट की ओर बड़   रहा है। यह एक व्यापारी के लिये हर्ष का विषय है। कहावत है “ जो दिखता है वही बिकता है” – डिजिटल मार्किट इसका अच्छा उदाहरण है ।

डिजिटल मार्केटिंग के प्रकार [Types of Digital Marketing]

डिजिटल मार्केटिंग क्या है?

डिजिटल मार्केटिंग के प्रकार|

सबसे पहले तो आपको यह बता दे कि डिजिटल मार्केटिंग करने के लिये ‘इंटरनेट’ ही एक मात्र साधन है। इंटरनेट  पर ही हम अलग-अलग वेबसाइट के द्वारा डिजिटल मार्केटिंग कर सकते हैं । इसके कुछ प्रकार के बारे में हम आपको बताने जा रहे हैं –

(i) सर्च इंजन औप्टीमाइज़ेषन या SEO

यह एक ऐसा तकनीकी माध्यम है जो आपकी वेबसाइट को सर्च इंजन के परिणाम पर सबसे ऊपर जगह दिलाता है जिससे दर्शकों की संख्या में बड़ोतरी होती है। इसके लिए हमें अपनी वेबसाइट को कीवर्ड और SEO guidelines के अनुसार बनाना होता है।

(ii) सोशल मीडिया (Social Media)

सोशल मीडिया कई वेबसाइट से मिलकर बना है – जैसे Facebook, Twitter, Instagram, LinkedIn, आदि । सोशल मीडिया के माध्यम से व्यक्ति अपने विचार हजारों लोगों के सामने रख सकता है । आप भली प्रकार सोशल मीडिया के बारे में जानते है । जब हम ये साइट देखते हैं तो इस पर कुछ-कुछ अन्तराल पर हमे विज्ञापन दिखते हैं यह विज्ञापन के लिये कारगार व असरदार जरिया है।

(iii) ईमेल मार्केटिंग (Email Marketing)

किसी भी कंपनी द्वारा अपने उत्पादों को ई-मेल के द्वारा पहुंचाना ई-मेल मार्केटिंग है। ईमेल मार्केटिंग हर प्रकार से हर कंपनी के लिये आवश्यक है क्योकी कोई भी कंपनी नये प्रस्ताव और छूट ग्राहको के लिये समयानुसार देती हैं जिसके लिए ईमेल मार्केटिंग एक सुगम रास्ता है।

(iv) यूट्यूब चेनल (YouTube Channel)

सोशल मीडिया का ऐसा माध्यम है जिसमे उत्पादक अपने उत्पादों को लोगों के समक्ष प्रत्यक्ष रुप से पहुंचाना है। लोग इस पर अपनी प्रतिक्रया भी व्यक्त कर सकते हैं। ये वो माध्यम है जहां बहुत से लोगो की भीड़ रह्ती है या यूं कह लिजिये की बड़ी सन्ख्या में users/viewers यूट्यूब पर रह्ते हैं।  ये अपने उत्पाद को लोगों के समक्ष वीडियो बना कर दिखाने का सुलभ व लोकप्रिय माध्यम है।

(v) अफिलिएट मार्केटिंग (Affiliate Marketing)

वेबसाइट, ब्लोग या लिंक के माध्यम से उत्पादनों के विज्ञापन करने से जो मेहनताना मिलता है, इसे ही अफिलिएट मार्केटिंग कहा जाता है। इसके अन्तर्गत आप अपना लिंक बनाते हैं और अपना उत्पाद उस लिंक पर डालते है । जब ग्राहक उस लिंक को दबाकर आपका उत्पाद खरीदता है तो आपको उस पर मेहन्ताना मिलता है।

(vi) पे पर क्लिक ऐडवर्टाइज़िंग या PPC marketing

जिस विज्ञापन को देखने के लिए आपको भुगतान करना पड़ता है उसे ही पे पर क्लिक ऐडवर्टीजमेंट कहा जाता है। जैसा की इसके नाम से विदित हो रहा है की इस पर क्लिक करते ही पैसे कटते हैं । यह हर प्रकार के विज्ञापन के लिये है ।यह विज्ञापन बीच में आते रह्ते हैं। अगर इन विज्ञापनो को कोई देखता है तो पैसे कटते हैं । यह भी डिजिटल मार्केटिंग का एक प्रकार है।

(vii) एप्स मार्केटिंग (Apps Marketing)

इंटरनेट पर अलग-अलग ऐप्स बनाकर लोगों तक पहुंचाने और उस पर अपने उत्पाद का प्रचार करने को ऐप्स मार्केटिंग कहते हैं । यह डिजिटल मार्केटिंग का बहुत ही उत्तम रस्ता है। आजकल बड़ी संख्या में लोग स्मार्ट फ़ोन का उपयोग कर रहे हैं । बड़ी-बड़ी कंपनी अपने एप्स बनाती हैं और एप्स को लोगों तक पहुंचाती है।

डिजिटल मार्केटिंग की उपयोगिताएं – [Uses of Digital Marketing in Hindi]

डिजिटल मार्केटिंग क्या है?

डिजिटल मार्केटिंग की उपयोगिताएं |

डिजिटल मार्केटिंग की उपयोगिता के बारे में हम आप को बता रहे हैं –

(i) आप अपनी वेबसाइट पर ब्रोशर बनाकर उस पर अपने उत्पाद का विज्ञापन लोगों के लेटेर-बॉक्स पर भेज सकते हैं। कितने लोग आपको देख रहे हैं यह भी पता लगाया जा सकता है।

(ii) वेबसाइट ट्रेफ़िक- सबसे ज्यादा दर्शकों की भीड़ किस वेबसाइट पर है – पहले ये आप जान ले , फिर उस वेबसाइट पर अपना विज्ञापन डाल दें ताकी आपको अधिक लोग देख सकें ।

(iii) एटृब्युषन मॉडलिंग – इसके द्वारा ह्म यह पता कर सकते है की आजकल लोग किस उत्पाद में रुचि ले रहे हैं या किन-किन विज्ञापनों को देख रहे हैं । इसके लिये विशेश टूल का प्रयोग करना होता है जो की एक विशेश तकनीक के द्वारा किया जा सकता है और ह्म अपने उपभोक्ताओं की हरकतें यानी उनकी रुचि पर नज़र रख सकते हैं।

आप अपने उपभोक्ता से किस प्रकार सम्पर्क बना रहे हैं यह विषय महत्वपूर्ण है। आप उनकी आवश्यक्ता के साथ पसंद पर भी दृष्टी बनाकर रखा करें ऐसा करने से व्यापार में वृद्घि हो सकती है।

आप पर उनका विश्वास भी अत्यन्त आवश्यक है, की वह विज्ञापन देख कर आपका उत्पाद खरीदने में संकोच न करें तुरंत ले लें। इनके विश्वास को आपने विश्वास देना है। ग्राहक को आश्वासन दिलाना आपका दायित्व है। अगर किसी को सामान पसंद न आये तो उसको बदलने के लिये वो अपना संदेश आप तक पहुंचा सके इसके लिये ईबुक आपकी सहायता कर सकता है।

निष्कर्ष [Digital Marketing Kya hai?]

डिजिटल मार्केटिंग एक एसा माध्यम बन गया है जिससे कि मार्केटिंग (व्यापार) को  बढ़ाया जा सकता है। इसके उपयोग से सभी लाभान्वित हैं । उपभोक्ता व व्यापारी के बीच अच्छे से अच्छा ताल-मेल बना रहे हैं , इसी सामजस्य को डिजिटल मार्केटिंग द्वारा पूरा किया जा सकता है । डिजिटल मार्केटिंग आधुनिकता का एक अनूठा उद्धरण है।

आशा है की आप भी डिजिटल मार्केटिंग से लाभांवित होंगे।

“उत्पादो की बहार, हमारा डिजिटल व्यापार।.

निष्कर्ष [Digital Marketing Kya hai?]

डिजिटल मार्केटिंग एक एसा माध्यम बन गया है जिससे कि मार्केटिंग (व्यापार) को  बढ़ाया जा सकता है। इसके उपयोग से सभी लाभान्वित हैं । उपभोक्ता व व्यापारी के बीच अच्छे से अच्छा ताल-मेल बना रहे हैं , इसी सामजस्य को डिजिटल मार्केटिंग द्वारा पूरा किया जा सकता है । डिजिटल मार्केटिंग आधुनिकता का एक अनूठा उद्धरण है।

आशा है की आप भी डिजिटल मार्केटिंग से लाभांवित होंगे।

“उत्पादो की बहार, हमारा डिजिटल

Digital Marketing Me Career kaise banaye- All Details

Career in Digital Marketing- क्या आप डिजिटल मार्केटिंग में कैरियर बनाने का सपना देख रहे हैं। क्या आप Digital Marketing Expert kaise bane इसके बारे में जानकारी चाहते हैं। अगर आप डिजिटल मार्केटिंग में कैरियर के बारे में सारी इन्फॉर्मेशन चाहते हैं, तो इस पोस्ट में आपको Digital Marketing Me Career kaise banaye इसकी डिटेल में जानकारी मिलेगी। इस पोस्ट में हम आपको Digital Marketing Course, बेस्ट इंस्टिट्यूट और इसमें Career Scope क्या है, इन सभी के बारे में बताएंगे। जिससे आप आसानी से डिजिटल मार्केटिंग में कैरियर बना सकेंगे। यंहा पर हर वो जानकारी आपको मिलेगी जो Digital Marketing में एक्सपर्ट बनने के लिए जरूरी है। चलिए अब हम आपको बताते हैं कि Digital Marketing Me Career kaise banaye.

Digital Marketing Me Career kaise banaye

आज की दुनिया लगभग पूरी तरह से ऑनलाइन और इंटरनेट पर आधारित हैं। जीवन के हर क्षेत्र में डिजिटलीकरण के साथ ही पूरे विश्व में बाजार व्यवस्था या विश्व-बाज़ार का भी डिजिटलीकरण हो चुका है। जिससे आज के समय मे digital marketing आम बात हो गई है। इसलिए मौजूदा समय मे डिजिटल मार्केटिंग सेक्टर में अनेक कैरियर के ऑप्शन हैं। अगर आप भी बेहतरीन Career की संभावनाओं का लाभ उठाना चाहते हैं, तो digital marketing course कर इस क्षेत्र में कैरियर बना सकते हैं। डिजिटल मार्केटिंग में कैरियर बनाने के लिए किसी खास योग्यता की जरूरत नही होती है। आप अगर किसी भी स्ट्रीम से 12वीं या ग्रेजुएट है, तो आप Digital Marketing Course के योग्य हैं। 

आजकल अनेक इंस्टीट्यूट में डिजिटल मार्केटिंग कोर्स कराये जा रहे हैं। लेकिन आप उसी कॉलेज से Digital Marketing Course करें। जंहा पर टीचिंग फैकल्टी अच्छी हों और कम से कम 8 से 10 साल का Digital Marketing का अनुभव हो। हम आपको ये बातें इसलिए बता रहे है, क्योकि आज के समय मे Digital Marketing Institute की भरमार है। लेकिन अच्छे डिजिटल मार्केटिंग के टीचर की इन इंस्टीट्यूट में कमी है। इसलिए किसी भी इंस्टीट्यूट से Digital Marketing में एडमिशन लेने से पहले सही तरह से जांच- पड़ताल कर लें। उल्टे- सीधे कॉलेज से डिजिटल मार्केटिंग कोर्स करने से कोई फायदा नही होने वाला। इस प्रकार अच्छे डिजिटल मार्केटिंग इंस्टीट्यूट से कोर्स करने के बाद आप किसी अच्छी Digital Marketing Company में इंटर्नशीप करें। इस तरह से आप डिजिटल मार्केटिंग में कैरियर को नई ऊंचाई दे सकते हैं। 

Career Scope in Digital Marketing

डिजिटल मार्केटिंग में कैरियर स्कोप को लेकर कोई भी संदेह नही है। इस सेक्टर में काफी आकर्षक कैरियर के विकल्प हैं। आज का युग ऑनलाइन मीडिया और डिजिटल मीडिया का युग है। ऐसे में डिजिटल मार्केटिंग का भी स्कोप बड़ा है। पहले लोग ज्यदातर न्यूज़पेपर पढ़ा करते थे और टीवी देखा करते थे। लेकिन आज का युग बदल चुका है। अब लोग मनोरंजन के लिए डिजिटल प्लेटफार्म जैसे कि यूट्यूब,फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, इनस्टाग्राम, पिंटरेस्ट आदि सोशल मीडिया प्लेटफार्म या डिजिटल मीडिया का इस्तेमाल करने लगे हैं। चूंकि आज सारे उपभोक्ता डिजिटल मीडिया पर हैं। इसलिए हर कंपनी अपने प्रोडक्ट की मार्केटिंग के लिए digital marketing का सहारा लेने लगी है। आने वाले समय मे और भी ज्यादा Digital Marketing Expert की डिमांड बढ़ेगी|

Digital marketing की सबसे अच्छी बात यह है कि यह काफी उभरता हुआ कारोबार है। आप अपने इंटरेस्ट को देखते हुए आगे बढ़ सकते हैं और मोटी कमाई कर सकते हैं। इसमें खुद को हमेशा ही अपडेट करते रहना पड़ता है। जिससे आप इस फील्ड में काफी ग्रोथ कर सकेंगे। इस फील्ड में आपको हमेशा अपडेट रहना होगा। जितनी अच्छी कमाई आप डिजिटल मार्केटिंग के क्षेत्र में कर सकते हैं। अन्य क्षेत्रों में मुमकिन नही।

Career Option in Digital Marketing

डिजिटल मार्केटिंग का दायरा काफी विस्तृत हो चुका है। इसमें आप डिजिटल मार्केटिंग मैनेजर, सोशल मीडिया मार्केटिंग स्पेशलिस्ट, कंटेंट मैनेजर, सर्च इंजिन मार्केटर, वेब डिजाइनर, एसईओ एग्जीक्यूटिव, कनवर्जन रेट ऑप्टिमाइजर, कंटेट राइटर आदि के रूप में काम कर सकते हैं।

Digital Marketing में कँहा मिलेगी जॉब

आज के समय डिजिटल मार्केटिंग के क्षेत्र में वेब डिजाइनर, ऐप डिजाइनर और सोशल मीडिया मैनेजमेंट के जानकारों के लिए जॉब के अवसरों की कमी नही है। इसके अलावा, डिजिटल मार्केटिंग एजेंसी और ई-कॉमर्स कंपनियों में भी Digital Marketing एक्सपर्ट की भारी डिमांड रहती है। इसके साथ ही देशी-विदेशी ऑनलाइन शॉपिंग वेबसाइट्स, सर्विस प्रोवाइडिंग कंपनीज आदि जगहों पर जॉब की तलाश कर सकते हैं। विभिन्न वेबसाइट, न्यूज पोर्टल में भी अवसरों की कमी नही है। अगर आप Digital Marketing में माहिर हैं, तो आप टीचिंग के क्षेत्र में भी जॉब कर सकते हैं। आप खुद के डिजिटल मार्केटिंग के कोर्स बनाकर ऑनलाइन उनको बेच सकते हैं या ऑनलाइन डिजिटल मार्केटिंग सिखा सकते हैं। अगर आप जॉब नही भी करना चाहते हैं, तो खुद की डिजिटल मार्केटिंग कंपनी या एजेंसी शुरू कर सकते हैं। 
इसके साथ ही डिजिटल मार्केटिंग की फील्ड में भारत में बैंकिंग, टूरिज्म, हॉस्पिटैलिटी, आईटी, मीडिया, कंसल्टेंसी, मार्केट रिसर्च, पीएसयू, पीआर एडं एडवरटाइजिंग, मल्टी नेशनल कंपनियों और रिटेल सेक्टर्स में आपको काफी अच्छे जॉब और करियर के विकल्प मिल सकते हैं।

Best Digital Marketing Course

इंडिया में डिजिटल मार्केटिंग के बेस्ट कोर्सेजसीडीएमएम (सर्टिफाइड डिजिटल मार्केटिंग मास्टर) है। इस कोर्स के तहत डिजिटल मार्केटिंग के प्रमुख विषयों और टॉपिक्स की स्टडी और ट्रेनिंग दी जाती है ताकि आप अपने बिजनेस और करियर में सफल हो सकें। यह कोर्स उन लोगों के लिए काफी अच्छा है जो सेल्स और मार्केटिंग प्रोफेशनल्स, एंटरप्रेन्योर्स, डिजिटल मार्केटिंग प्रोफेशनल्स में कैरियर बनाने की चाहत रखते हैं।

भारत सरकार द्वारा यह कोर्स सर्टिफाइड है और इस कोर्स को करते समय आपको हैंड्स-ऑन प्रोजेक्ट्स और असाइनमेंट्स की ट्रेनिंग दी जाती है साथ ही डिस्कशन फोरम से रेगुलर सपोर्ट मिलता है। कोर्स के दौरान आप रिसर्च बेस्ड इंटर्नशिप करते हैं और फ्रेशर्स तथा डिजिटल मार्केटिंग पेशेवरों को प्लेसमेंट असिस्टेंस की सुविधा भी उपलब्ध करवाई जाती है। इस कोर्स को कंपलीट करने के बाद प्रोफेशनल्स इस कोर्स से संबद्ध अपडेटेड कंटेंट और वीडियोज भी प्राप्त कर सकते है। इसके अंतर्गत 25 से 35 हजार तक की आसानी से सैलेरी मिल जाती है। अनुभव होने पर काफी अच्छा पैकेज मिलता है।

Popular Course in Digital Marketing

सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन (SEO)

सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन (एसइओ) के तहत इस बात की जांच की जाती है कि, किसी भी वेब पेज को गूगल, याहू जैसे सर्च इंजन से कितना सर्च किया गया या कितने लोगों ने कोई खास वेबसाइट देखी है।  SEO  डिजिटल मार्केटिंग का एक अहम ऐसा हिस्सा है जिसका  धीरे-धीरे महत्व काफी बढ़ रहा है। मार्केटिंग पर होने वाला खर्च अखबार और टीवी से वेबसाइट और सोशल मीडिया की तरफ बढ़ रहा है। हर वेबसाइट के ओनर चाहते हैं कि उनकी वेबसाइट गूगल या अन्यं सर्च इंजन के पहले पेज पर पहली पोजीशन पाएं। जिससे कि उस वेबसाइट पर अच्छा खासा ट्रैफिक आता है और उस वेबसाइट की अच्छी कमाई होती है। SEO एक्सपर्ट किसी भी साइट को रैंक कराने में अहम भूमिका निभाते हैं।

इसी कारण दिन- प्रतिदिन एसइओ एक्सप‌र्ट्स की मांग बढ़ती ही जा रही है।  एसइओ एक्सप‌र्ट्स का यही काम होता है कि वे ज्यादा से ज्यादा ट्रैफिक को अट्रैक्ट करें और उस ट्रैफिक को बिजनेस में बदल दें। समय के साथ रैंकिंग टेक्निक्स और मेथड्स लगातार अपडेट होते जा रहे हैं और पुराने तरीके आउटडेटेड और खत्म होते जा रहे हैं। गूगल अपना एल्गोरिदम चेंज करता रहता है। ऐसे में SEO एक्सपर्ट को भी गूगल के एल्गोरिदम को समझने के लिए अपडेट रहना होगा। इस कोर्स में कीवर्ड रिसर्च, साइट डिजाइन्स, इंटरलिंकिंग आदि पर फोकस किया जाता है।
इस कोर्स को पूरा करने के बाद एनालिटिक्स, बिजनेस मैनेजमेंट/ डेवलपमेंट, वेब डिजाइन, ऑफलाइन मार्केटिंग, पब्लिक रिलेशन, रेपुटेशन मैनेजमेंट, पेड सर्च/ पीपीसी मैनेजमेंट, राइटिंग/ ब्लॉगिंग, लिंक बिल्डिंग, इवेंट मैनेजमेंट, सोशल मीडिया एनालिस्ट, वेब डेवलपमेंट मैनेजमेंट, आदि क्षेत्रों में अच्छा कैरियर बना सकते हैं।

सोशल मीडिया मार्केटिंग (SMM)

सोशल मीडिया मार्केटिंग इंटरनेट मार्केटिंग का ही पार्ट है जिसमें सोशल नेटवर्किंग साइट्स में विभिन्न मार्केटिंग टेक्निक्स अप्लाई की जाती हैं ताकि मार्केटिंग के उद्देश्य से सोशल मीडिया लोगों से संपर्क बनाया  जा सके और कंटेंट, इमेजेज, ग्राफ़िक्स और वीडियोज के माध्यम से उन्हें विभिन्न प्रोडक्ट्स और सर्विसेज की जानकारी दी जा सके ताकि लोग उन प्रोडक्ट्स और सर्विसेज के बारे में जानें और उनको खरीदें।

मोबाइल मार्केटिंग

अब तो मोबाइल मार्केटिंग का स्कोप भी काफी बढ़ गया है। इस कोर्स को करने के लिए स्टूडेंट्स को इंटरनेट की अच्छी जानकारी के साथ ही मोबाइल प्रिंसिपल्स की अच्छी समझ होनी चाहिए। इस कोर्स में यह सिखाया जाता है कि यूजर्स मोबाइल का इस्तेमाल आमतौर पर कैसे करते हैं जिसे किस तरह मार्केटिंग के उद्देश्य से उपयोग किया जा सकता है? यह कोर्स डिजिटल मार्केटिंग प्रोफेशनल्स, बिजनेसमेन, डिजिटल मार्केटिंग एजेंसीज और स्टूडेंट्स के लिए एक अच्छा ऑप्शन है। मोबाइल और स्मार्टफ़ोन्स के रोज़ाना बढ़ते इस्तेमाल की वजह से अब मोबाइल मार्केटिंग एक विशेष मार्केटिंग चैनल हो गया है। मोबाइल मार्केटिंग के विभिन्न कॉन्सेप्ट्स जैसेकि, एप्स मेसेजिंग, मोबाइल वेब एंड इमेज रिकॉग्निशन आदि की बारीकी से जानकारी दी जाती है।

ईमेल मार्केटिंग (Email)

ईमेल मार्केटिंग में ईमेल भेजकर और ईमेल के रेस्पोंसेज को एनालाइज करके डिजिटल मार्केटिंग प्रोफेशनल्स अपने बिजनेस टारगेट्स अचीव करने की कोशिश करते हैं। ईमेल मार्केटिंग कोर्स करके स्टूडेंट्स ईमेल मैनेजर के तौर पर विभिन्न कंपनियों में अपना करियर बना सकते हैं।

ग्रोथ हैकिंग

ग्रोथ हैकिंग कोर्स के तहत लोगों को मार्केटिंग के नए रूल्स की जानकारी के बारे में बताया जाता है। किसी बिजेनस को चलाने के लिए फाइनेंस से संबद्ध कॉन्सेप्ट्स, कॉस्ट-इफेक्टिव मैनेजमेंट, बेसिक वेब एंड एप डेवलपमेंट से संबद्ध स्किल्स आदि टिप्स दिए जाते हैं। यह कोर्स डिजिटल मार्केटर्स, कंसल्टेंट्स, फ्री लांसर्स, इच्छुक ग्रोथ हैकर्स आदि के लिए अच्छा विकल्प है। इस कोर्स को करने के बाद पेशेवर अपने बिजनेस को प्रमोट और प्रोटेक्ट करने के गुरु सीखते हैं।

वेब एनालिटिक्स

वेब एनालिटिक्स कोर्स में  एनालिटिक्स की बेसिक जानकारी दी जाती है। साथ ही  एनालिटिक्स के विभिन्न टाइप्स के बारे में बताया जाता है। इस कोर्स मेंं सेगमेंटेशन और बेंचमार्किंग के साथ-साथ मेज़रमेंट प्लान तैयार करने के बारे में सिखाया जाता है। वेब एनालिटिक्स कोर्स में पेशेवर सफलता ऑनलाइन बिजेनस तैयर करना सीखते हैं और विशेष रूप से गूगल एनालिटिक्स के आधार पर एनालिटिक्स को अप्लाई करना आदि के बारे में बताया जाता है।

इनबाउंड मार्केटिंग

इस कोर्स के तहत किसी गुड या सर्विस को खरीदने से पहले ही कंटेंट क्रिएशन के माध्यम से कस्टमर्स की अटेंशन को अट्रेक्ट करने की कोशिश की जाती है। यह आपके बिजनेस को प्रोमोट करने के लिए सबसे बेहतरन किफायती तरीकों में से एक है। इस कोर्स के माध्यम से स्ट्रेंजर्स को कस्टमर्स और आपके बिजेनस प्रमोटर्स के तौर पर कन्वर्ट करने के बारे में स्किल्स दी जाती हैं। इस कोर्स में अट्रेक्ट, कन्वर्ट, क्लोज और डिलाइट स्टेप्स की मेथडोलॉजी पर वर्क किया जाता है।

Digital Marketing में जॉब प्रोफाइल्स

डिजिटल मार्केटिंग की फील्ड में अपने इंटरेस्ट, टैलेंट और स्किल सेट के मुताबिक कोई कोर्स करके कंटेंट मार्केटर, कॉपी राइटर, कंवर्जन रेट ऑप्टिमाइज़र, पीपीसी मैनेजर/ एग्जीक्यूटिव,एसईओ एग्जीक्यूटिव/ मैनेजर, एसईएम मैनेजर/ एक्सपर्ट, सोशल मीडिया मैनेजर/ एग्जीक्यूटिव, ई-कॉमर्स मैनेजर, एनालिटिकल मैनेजर, सीआरएम एंड ईमेल मार्केटिंग मैनेजर, वेब डिज़ाइनर/ डेवलपर और डिजिटल मार्केटिंग मैनेजर/ डायरेक्टर, एसईओ एग्जीक्यूटिव/ मैनेजर, एसईएम मैनेजर आदि के तौर पर अपना शानदार करियर शुरू कर सकते हैं और कुछ वर्षों के अनुभव के बाद एक सफल डिजिटल मार्केटिंग एक्सपर्ट बन कर लाखों रुपये महीने में कमा सकते हैं।

Digital Marketing Course Fees

डिजीटल मार्केटिंग कोर्स की फीस की बात करें, तो इन कोर्स की फीस 40 हजार से लेकर 1 लाख से भी ज्यादा हो सकती है। वंही एक अच्छे Digital Marketing एक्सपर्ट की सैलरी 50 हजार से लाखों रुपए हो सकती है। फिलहाल इस सेक्टर में आमदनी की कोई सीमा नही है। 

gital Marketing के लाभ

ऐसे बहुत सारे लाभ हैं जो Digital Marketing से आपको हो सकते हैं। पेश हैं डिजिटल मार्केटिंग के सही इस्तेमाल से होने वाले फायदे-

  1. Digital Marketing बहुत कम पैसों में की जा सकती है। इसे आप 100 या 1000 रुपए से भी शुरू कर सकते हैं।
  2. Digital Marketing से हम सिर्फ और सिर्फ उन्हीं लोगों तक अपने Ads को पहुंचा सकते हैं जिन्हें हमारे Products या फिर Services की जरूरत है।
  3. जबकि Traditional Marketing में ऐसा संभव नहीं है।
  4. Digital Marketing करने में आसान है।
  5. साथ ही साथ हम आसानी से अपने Digital Marketing Campaign में जरूरी बदलाव कर सकते हैं।
  6.  Digital Marketing में प्राय: Conversion Rate अच्छा होता है। यानी लोग जल्दी से ग्राहक बन जाते हैं।
  7. Digital Marketing,मार्केटिंग का भविष्य है।
  8. इंटरनेट मार्केटिंग जॉब ढूंढना। 
  9. अपनी साख बढ़ाना। 
  10. नियोक्ताओं के लिए अपना मूल्य बढ़ाना। 
  11. इंटरनेट मार्केटिंग  की मुख्य अवधारणाओं को मजबूत करना। 
  12. अपना खुद का ऑनलाइन व्यवसाय शुरू करने के लिए ज्ञान प्राप्त करना। 
  13. अपनी मौजूदा व्यावसायिक वेबसाइट या ब्लॉग का प्रचार करना। 
  14. आपकी SEO टीम कैसे काम कर रही है, इसकी बेहतर निगरानी कर सकते हैं। 
  15. इंटरनेट Marketers के रूप में Work From Home से एक Freelance के रूप में काम कर सकते हैं। 
  16. अपने आत्मविश्वास को बढ़ा सकते हैं।

See also  Chhattisgarh E Pass – CG Covid 19 ePass Apply Online, Status for Curfew

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *