साइबर सिक्योरिटी कोर्स क्या है Cyber Security Course कैसे करें#khush pardhi done

Table of Contents

hello guys aaj ki class me ham sikhne wale h ki साइबर सिक्योरिटी कोर्स क्या है Cyber Security Course कैसे करें to start krte h

ham pahle is class ka ek overview dek lete h to ham padne wale h ki

1.साइबर सिक्योरिटी कोर्स क्या है Cyber Security Course कैसे करें
2.बढ़ रही सर्विलांस इकोनॉमी
3.कोर्स एवं योग्यता
4.Cyber Security and Ethical Hacking and Ethical Hacking Me Career kaise banaye-एथिकल हैकिंग में शानदार कैरियर
5.Cyber Security and ethical hacking Me Career kaise banaye
6.Cyber Security kya है
7.Cyber Security Course के बाद कंहा मिलेगी नौकरी।
8.साइबर सिक्योरिटी कोर्स के लिए प्रवेश परीक्षा (Entrance Exam for Cyber Security Course)
9.साइबर सिक्योरिटी कोर्स करने के लिए योग्यता (Eligibility for Cyber Security Course)
10.साइबर सिक्योरिटी कोर्स की फीस (Cyber Security Course Fees)
11.सिक्योरिटी कोर्स सिलेबस (Cyber Security Course Syllabus)
12.भारत में साइबर सिक्योरिटी कोर्स के लिए कॉलेज (Cyber Security Course College in India)
13.साइबर सिक्योरिटी कोर्स की किताबें (Books and Study Materials)  
14.साइबर सिक्योरिटी कोर्स के बाद वेतन (Salary after Cyber Security Course)

Aur bhi bahut kuch … toh class mein end tak bane rhe

to let’s start it

इस class के माध्यम से आज हम आपको बताएंगे साइबर सिक्योरिटी कोर्स क्या है Cyber Security Course कैसे करें? What is Cyber ​​Security Course in Hindi? How to do Cyber ​​Security Course in Hindi? Cyber Security Course in Hindi full information? इंटरनेट और डिजिटल दुनिया आज काफी आगे तक बढ़ चुकी है जहां इसके बहुत सारे फायदे भी हैं तो कुछ नुकसान भी हैं।

इसीलिए डिजिटल दुनिया में बहुत सारे क्राइम किए जाते हैं जिनको साइबर फ्रॉड या साइबर अटैक का नाम दिया गया है। जो कैंडिडेट ऑनलाइन अपराधों को रोकना चाहते हैं उन्हें इससे संबंधित कोर्स करने की जरूरत होती है और उस कोर्स का नाम साइबर सिक्योरिटी कोर्स है। अगर आप भी साइबर सिक्योरिटी कोर्स करने में इंटरेस्ट रखते हैं तो आज के हमारे इस vedio को सारा जरूर dhekhe।

साइबर सिक्योरिटी कोर्स क्या है (What is Cyber Security Course in Hindi)

डिजिटल दुनिया में जो साइबर क्राइम होते हैं उन्हें रोकने के साथ-साथ इंटरनेट सेफ्टी के लिए भी कुछ टेक्निकल शिक्षा भी दी जाती है जिसे साइबर सिक्योरिटी कहा जाता है इस कोर्स के दौरान छात्र को इन्हीं सब चीजों के बारे में विशेष ट्रेनिंग दी जाती है। आज का समय इंटरनेट का समय है और इसीलिए हर इंसान अपने अधिकतर काम ऑनलाइन ही करना पसंद करता है परंतु कठिनाई तब आती है जब किसी की पर्सनल इंफॉर्मेशन कलेक्ट कर के कोई दूसरा व्यक्ति फायदा उठाकर उसे नुकसान पहुंचाता है। तो अनेकों प्रकार के अपराधों और धोखेबाजियों को रोकने के लिए ही साइबर सिक्योरिटी का कोर्स छात्रों को करवाया जाता है जैसे कि –

  • क्रेडिट कार्ड चोरी
  • ब्लैक मेलिंग
  • स्टॉकिंग
  • ऑनलाइन ठगी

Cyber Security Experts की बढ़ रही मांग, 12वीं के बाद ही बन सकते हैं एथिकल हैकर्स

ऑनलाइन ठगी करने वालों से आजकल आम आदमी और कारोबारी से लेकर सरकारें तक परेशान हैं। ऐसे में इससे बचने के लिए साइबर एक्सपर्ट की जरूरत लगातार बढ़ रही है

बैंकिंग खातों और सरकारी निजी पोर्टल्स की सेंधमारी से आगे बढ़ते हुए हैकर्स अब सोशल मीडिया को भी निशाना बनाने लगे हैं। इजराइली कंपनी एनएसओ के स्पाईवेयर पेगासस के जरिए भारत के 1400 से ज्यादा लोगों के वाट्सएप की जासूसी का खुलासा होने के बाद यह मामला एक बार फिर गरमा गया है। ऑनलाइन ठगी करने वालों से आजकल आम आदमी और कारोबारी से लेकर सरकारें तक परेशान हैं। ऐसे में इससे बचने के लिए साइबर एक्सपर्ट की जरूरत लगातार बढ़ रही है…

वॉट्सएप के जरिए जासूसी किए जाने की इन दिनों दुनिया भर में चर्चा है। माना जा रहा है कि स्पाईवेयर पेगासस से करीब 20 देशों के लोग जासूसी के शिकार हुए हैं। इसी तरह, अभी कुछ माह पहले ही अमेरिका में एक बड़ी डेटा सेंधमारी की घटना सामने आई। 33 वर्षीय एक महिला हैकर पेज थॉम्पसन ने अमेरिका की क्रेडिट कार्ड जारी करने वाली कंपनी कैपिटल वन के सर्वर को हैक करके करीब 10 करोड़ यूजर्स का डाटा चुरा लिया था। वैसे, ऐसी घटनाएं अब आम बात हैं।

See also  Haryana किसान मित्र योजना 2021: Registration ऑनलाइन आवेदन

रोज ही अपने आसपास साइबर फ्रॉड की घटनाएं देखने-सुनने को मिल रही हैं। एक रिपोर्ट के अनुसार, भारत में भी साइबर हमले लगातार बढ़ रहे हैं। स्मार्टफोन और इंटरनेट पर निर्भरता बढ़ने से भारत में कोई भी ऐसा दिन नहीं गुजरता, जब किसी न किसी तरीके से सैकड़ों लोगों के खातों से साइबर हमले के जरिए लाखों की रकम नहीं निकाली जाती हो। हैकर्स द्वारा आए दिन ऑनलाइन नुकसान पहुंचाने की घटनाओं को देखते हुए आजकल सभी कंपनियों के आइटी विभाग में साइबर सिक्युरिटी एक्सपट्र्स की भारी जरूरत देखी जा रही है।

बढ़ रही सर्विलांस इकोनॉमी

ऑनलाइन फ्रॉड यानी इंटरनेट के जरिए होने वाला फ्रॉड। जो लोग इस तरह के फ्रॉड को अंजाम देते हैं, उन्हें हैकर्स या साइबर क्रिमिनल्स कहा जाता है। हैकर अपराधी किस्म के एक अति कुशल कंप्यूटर प्रोफेशनल होते हैं, जो अपने ट्रिक्स और तकनीकी ज्ञान के जरिए किसी दूसरे कंप्यूटर, लैपटॉप, मोबाइल यूजर के डाटा सिक्युरिटी में बिना उसकी जानकारी के सेंध लगाकर नुकसान पहुंचाते हैं, जानकारियां चोरी करते हैं या फिर कोई अन्य साइबर अपराध करते हैं।

हाल फिलहाल के वर्षों में बढ़ते साइबर अपराध की इन घटनाओं से निपटने के लिए वाइट हैट प्रोफेशनल्स यानी एथिकल हैकर्स की काफी डिमांड देखी जा रही है, जो हैकिंग और इसके खतरों को अच्छी तरह समझते हैं। ये लोग हैकिंग के सारे दांवपेच जानने के कारण साइबर के खतरों का मुकाबला करने में काफी कुशल होते हैं। इसके अलावा, हैकिंग के अंदेशों को भांपते हुए सर्वर की सिक्युरिटी सुनिश्चित करने की जिम्मेदारी भी इन्हीं पर होती है। इस फील्ड में संभावनाएं बहुत हैं, क्योंकि भारत सहित दुनियाभर में सर्विलांस इकोनॉमी बढ़ रही है।

कंपनियों के अलावा हर सरकार साइबर डिफेंस को गंभीरता से ले रही है, अपनी क्षमताएं बढ़ा रही है। साइबर क्षेत्र के स्टार्टअप्स में निवेश किया जा रहा है। सीईआरटी-इन नाम से इसके लिए देश में बकायदा एक सरकारी एजेंसी भी है, जो साइबर सिक्युरिटी के लिए काम करती है। इसके अलावा, गृह मंत्रालय के अपने फोरेंसिक लैब्स हैं। साथ ही, फेस रिकग्निशन से लेकर स्पाईवेयर सॉफ्टवेयर्स की इन दिनों काफी डिमांड है। जाहिर है इस फील्ड में प्राइवेट सेक्टर के साथ-साथ सरकारी सेक्टर में भी कुशल साइबर सिक्युरिटी एक्सपट्र्स के लिए काफी मौके हैं।

कोर्स एवं योग्यता

एथिकल हैकिंग या साइबर सिक्युरिटी का कोर्स आप 12वीं के बाद कर सकते हैं। देश के कई संस्थानों में यह कोर्स संचालित हो रहे हैं। ये कोर्स छह माह से लेकर एक साल की अवधि के हैं। इसी फील्ड में एडवांस कोर्स भी कर सकते हैं।

प्रमुख संस्थान

  • इंदिरा गांधी नेशनल ओपन यूनिवर्सिटी, दिल्ली
  • इंडियन स्कूल ऑफ एथिकल हैकिंग, बेंगुलरु
  • सर्टिफाइड एथिकल हैकिंग, ईसी काउंसिल, बेंगलुरु
  • इंस्टीट्यूट ऑफ इंफॉर्मेशन सिक्युरिटी, मुंबई

जॉब्स के अवसर

साइबर सिक्युरिटी प्रोफेशनल्स की इन दिनों सबसे ज्यादा मांग आइटी कंपनियों और आइटी विभागों में है। खास तौर से आइटी सिक्युरिटी सर्टिफिकेशन सेवा देने वाली कंपनियों और आइटी फम्र्स में ऐसे प्रोफेशनल्स की काफी डिमांड देखी जा रही है। इसके अलावा, बैंक, टेलीकॉम कंपनीज, जांच एजेंसीज सहित विभिन्न प्रतिष्ठानों में भी आजकल साइबर एक्सपर्ट की सेवाएं ली जा रही हैं। पेटीएम, भीम जैसी डिजिटल पेमेंट तकनीक को सुरक्षित करने के लिए भी इन्हीं प्रोफेशनल्स की मदद ली जा रही है। इस फील्ड में अपना स्टार्टअप या कंसल्टेंसी सर्विस शुरू करके भी अच्छा पैसा कमाया जा सकता है।

खुद को पहचानें

साइबर एक्सपर्ट बनने के लिए कंप्यूटर का समुचित नॉलेज होना सबसे ज्यादा जरूरी है। इसके लिए कंप्यूटर के कंपोनेंट्स से लेकर इसके कॉन्फिगरेशन और वर्किंग मेथड के बारे में जानना जरूरी होता है, क्योंकि कंप्यूटर के बेसिक्स के बारे में अच्छी समझ से ही आप एक अच्छे एथिकल हैकर बन सकते हैं। 

लाखों में कमाई

साइबर सिक्युरिटी एक्सपर्ट लाखों में कमाई करते हैं। इन्हें शुरुआत में ही 30 से 40 हजार रुपये तक की सैलरी आसानी से मिलती है, जो अनुभव व विशेषज्ञता के आधार पर लाखों तक हो सकती है।

Ummeed h ki class aapko pasand aa rahi hogi to bane rahiye class me our sikte rahiye to jante h

Cyber Security and Ethical Hacking and Ethical Hacking Me Career kaise banaye-एथिकल हैकिंग में शानदार कैरियर

Career in Cyber Security- क्या आप साइबर सिक्योरिटी के क्षेत्र में कैरियर बनाना चाहते हैं? क्या आपको एथिकल हैकिंग एंड साइबर सिक्योरिटी कोर्स के बारे में जानकारी चाहते हैं? अगर आप इस फील्ड में कैरियर बनाना चाहते हैं

Cyber Security and ethical hacking Me Career kaise banaye

साइबर सिक्योरिटी एक उभरता हुआ कैरियर के क्षेत्र है। आने वाले समय मे इस सेक्टर में रोजगार के अनेकों अवसर होंगे। इस फील्ड में कैरियर की शुरुआत 12वीं के बाद की जा सकती है। Cyber Security and Ethical Hacking से रिलेटेड अनेक संस्थान 12वीं के बाद सर्टिफिकेट, डिप्लोमा और बैचलर डिग्री जैसे कोर्स संचालित करते हैं। बैचलर डिग्री के बाद मास्टर डिग्री और मास्टर डिग्री के बाद आप चाहें तो एमफिल या पीएचडी में इसमे कर सकते हैं।

इस फील्ड में कैरियर बनाने के लिए जरूरी है कि कंप्यूटर में आपको एक्सपर्ट होना चाहिए। अगर आप Computer Science में बीटेक या बीएससी  कंप्यूटर सांइस जैसे कोर्स कर Cyber Securty Course किसी अच्छे संस्थान से करते हैं तो आप काफी उचाईयों तक जाएंगे। अब तो अनेक संस्थान Cyber Security में बीटेक भी कराने लगे हैं। इसकी अवधि 4 साल होती है। 

Cyber Security kya है

यह इंटरनेट बेस्ड सुरक्षा है। जब आप इंटरनेट का प्रयोग करते हैं तो आपका डेटा, सॉफ्टवेयर, डिवाइस, पहचान आदि के चोरी होने या गलत इस्तेमाल होने का खतरा होता है। ऐसे में जो लोग इन गतिविधियों पर नजर रखते हैं उनको Cyber Security Expert कहा जाता है। 

See also  PMJDY Account Opening Form 2021 Bank~Wise Online Apply

Career Scope in Cyber Security  and Ethical hacking

वर्तमान समय मे पूरी दुनिया इंटरनेट बेस्ड होती जा रही है। जिस तरह से इंटरनेट का इस्तेमाल तेजी से हो रहा है ऐसे में साइबर अपराधों में भी बढ़ोतरी हो रही है। आज की डिजिटल दुनिया के लिए हैकिंग से बचने की बहुत बड़ी चुनौती है। 

सरकार और कंपनियां अपने इंटरनेट और डाटा को सेफ और सुरक्षित रखने के लिए अनेकों उपाय और तकनीकों, और साइबर एक्सपर्ट की मदद लेती है। इसके लिए वे कितना भी पैसा खर्च कर सकते हैं। आज बड़ी- बड़ी कंपनियों, बैंक्स आदि जगहों पर Cyber Security की मांग तेजी से बढ़ रही है।

साइबर सिक्योरिटी कोर्स करने के बाद आईटी कंपनियों और सुरक्षा संस्थानो में आसानी से नौकरी मिल जाती है।

अब तो हम लोगों को अपने आस-पास ही साइबर फ्राड की घटनाएं सुनने को मिलती रहती हैं। एक रिपोर्ट की माने तो अब इंडिया में साइबर हमले काफी बढ़ गये हैं। इंटरनेट और स्मार्टफोन पर निर्भरता बढ़ने के कारण हमारे देश मे ऐसा कोई दिन नही जाट है कि जिस दिन साइबर फ्राड नही होता है। Cyber Attack या साइबर फ्राड के के जरिये लोगों और बैंक से लाखों की रकम निकल जाती है। हैकर्स की संख्या बढ़ने के कारण Eyber Expert की जरूरत बढ़ रही है। आज के समय मे हर कंपनी और आईटी कंपनी को साइबर एक्सपर्ट की जरूरत है।

यही नही बैंक खातों और सरकारी तथा निजी पोर्टल्स की सेंधमारी के अलावा अब यो हैकर्स सोशल मीडिया पर भी साइबर अटैक करने लगे हैं। इंटरनेट पर ठगी से लेकर आज आम आदमी, सरकारे और कारोबारी भी परेशान हैं। इन घटनाओं पर कंट्रोल करने के लिए Cyber Expert की जरूरत होती है।

विभिन्न कंपनियों के साथ ही अब हर सरकार साइबर डिफेंस को बड़ी गंभीरता से ले रही है और घटनाओं पर काबू करने के लिए अपनी क्षमताओं में भी इजाफा कर रही है। साइबर सेक्टर के स्टार्टअप में भी काफी निवेश किया जा रहा है। सरकारी एजेंसियां भी Cyber Security के लिए कार्यरत हैं। 

इसके साथ ही गृह मंत्रालय के अपने फोरेंसिक लैब्स हैं। स्पाईवेयर सॉफ्टवेयर्स की इन दिनों काफी तेजी से डिमांड बढ़ रही है। इस प्रकार इस फील्ड में प्राइवेट और सरकारी दोनों क्षेत्रों में काफी मौके हैं।

साइबर अपराध क्या है?

यह इंटरनेट या ऑनलाइन होने वाला फ्राड है जो लोग इस काम को अंजाम देते हैं उनको Cyber Criminals या हैकर्स कहा जाता है। ये हैकर्स बहुत ही कुशल और कंप्यूटर और इंटरनेट की जानकारी में महारत हासिल रखते हैं। जो अपने टेक्निक और टिप्स का इस्तेमाल कर दूसरों के मोबाइल, लैपटॉप के डेटा में बिना उनकी जानकारी के उनको नुकसान पहुचाते हैं या चोरी करते हैं। इसी को साइबर अपराध कहा जाता है।

Cyber Expert हैकिंग और इससे जुड़े खतरों को अच्छी तरह से जानते और समझते हैं। ये लोग साइबर खतरों का मुकाबला करने में बहुत एक्सपर्ट होते हैं। अगर इनको साइबर अपराध की भनक लगती है तो ये तुरंत ही सर्वर की सिक्योरिटी सुनिश्चित करते है। 

Cyber Security Course के बाद कंहा मिलेगी नौकरी।

आजकल तो हर क्षेत्र में साइबर सिक्योरिटी एक्सपर्ट की डिमांड है लेकिन सबसे ज्यादा डिमांड आईटी विभाग और आईटी कंपनियों में है। इसके अलावा बैंकिंग, टेलीकॉम, जांच एजेंसी में भी काफी मांग रहती है। पेटीएम, भीम, ऑनलाइन पेमेंट तकनीक को सुरक्षित करने के लिए भी इन्हीं Cyber प्रोफेशनल की जरूरत होती है। आप खुद की कंसल्टेंसी सर्विस भी स्टार्ट कर सकते हैं।

Skills for Career in Cyber Security and Ethical hacking

साइबर सिक्योरिटी के क्षेत्र में सफल कैरियर बनाने के लिए जरूरी है कि आपको कंप्यूटर का अच्छा नॉलेज हो। इसके लिए कंप्यूटर के कंपोनेंट्स से लेकर इसके कॉन्फिगरेशन और वर्किंग मेथड की जानकारी अति आवश्यक है। कंप्यूटर की अच्छी समझ से ही आप अच्छे Ethical Hacker बन सकते हैं।

साइबर सिक्योरिटी एक्सपर्ट की लाखों में कमाई होती है लेकिन शुरआती समय मे 25 से 40 हजार प्रतिमाह मिल जाती है। अच्छा एक्सपेरिएंस होने के बाद आप लाखों रुपये प्रतिमाह कमा सकते हैं।

साइबर सिक्योरिटी कोर्स के लिए प्रवेश परीक्षा (Entrance Exam for Cyber Security Course)

साइबर सिक्योरिटी कोर्स किसी प्रतिष्ठित और मान्यता प्राप्त कॉलेज से करने के लिए कैंडिडेट को निम्नलिखित में से किसी एक परीक्षा को पास करना होगा जैसे कि-

  • नीट (NEET)
  • जेईई-मेन्स (JEE Mains)
  • जेट (JET)

साइबर सिक्योरिटी कोर्स करने के लिए योग्यता (Eligibility for Cyber Security Course)

  • उम्मीदवार का किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12वीं कक्षा पास होना अनिवार्य है।
  • कैंडिडेट 12वीं कक्षा में साइंस स्ट्रीम के साथ-साथ मैथमेटिक्स विषय भी पढ़ा हो।
  • छात्रों को कंप्यूटर का अच्छा ज्ञान भी होना आवश्यक है।

साइबर सिक्योरिटी कोर्स की फीस (Cyber Security Course Fees)

यदि कैंडिडेट अपना साइबर सिक्योरिटी कोर्स किसी सरकारी कॉलेज से करेगा तो तब उसे इसके लिए लगभग एक लाख रुपए से 3 लाख रुपए तक की फीस देनी पड़ सकती है परंतु अगर छात्र किसी प्राइवेट कॉलेज में अपना दाखिला लेकर साइबर सिक्योरिटी कोर्स करना चाहता है तो तब उसे इसके लिए 2 लाख से लेकर 10 लाख रुपए तब की फीस का भुगतान करना पड़ता है जो कि बहुत ज्यादा है।

See also  CBSE Revised 10th class result date

सिक्योरिटी कोर्स सिलेबस (Cyber Security Course Syllabus)

साइबर सिक्योरिटी कोर्स का निर्धारित सिलेबस निम्नलिखित है-

  • इंट्रोडक्शन टू साइबर सिक्योरिटी (Introduction to cyber security)
  • साइबर लॉज (Cyber laws)
  • बेसिक्स ऑफ नेटवर्किंग (Basics of networking)
  • क्रिप्टोग्राफी (Cryptography)
  • फुटप्रिंटिंग एंड सिस्टम हैकिंग (Footprinting and system hacking)
  • नेटवर्किंग स्कैनिंग (Networking scanning)
  • मोबाइल एंड वेब एप्लीकेशन सिक्योरिटी (Mobile and web application security)
  • फायरवॉल (Firewall)
  • इंजेक्शन (Injection)
  • वेब सर्वर्स (web servers)
  • क्लाउड एंड एलओटी सिक्योरिटी (Cloud and loT security)
  • साइबर थ्रेट्स एंड अटैक्स (Cyber threats and attacks)

भारत में साइबर सिक्योरिटी कोर्स के लिए कॉलेज (Cyber Security Course College in India)

  • जयपुर नेशनल यूनिवर्सिटी जयपुर
  • डॉक्टर केएन मोदी यूनिवर्सिटी जयपुर
  • जैन यूनिवर्सिटी बैंगलोर
  • मारवाड़ी यूनिवर्सिटी-एमयू राजकोट
  • सीटी यूनिवर्सिटी लुधियाना
  • फैकल्टी ऑफ लॉ लखनऊ यूनिवर्सिटी लखनऊ
  • इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी इलाहाबाद
  • आईएमटी मेरठ रोड गाजियाबाद
  • इंडियन लॉ इंस्टीट्यूट भगवान दास रोड नई दिल्ली
  • डिपार्टमेंट ऑफ लॉ दिल्ली यूनिवर्सिटी

साइबर सिक्योरिटी कोर्स की किताबें (Books and Study Materials)  

  • मास्टरिंग मॉडर्न वेब पेनिट्रेशन टेस्टिंग बाय प्रखर प्रसाद (Mastering modern web penetration testing by prakar Prasad)
  • सेफ्टी क्रिटिकल कंप्यूटर सिस्टम बाय डॉक्टर नील स्टोरे (Safety critical computer systems by Dr Neal storey)
  • कंप्यूटर सिस्टम सिक्योरिटी- बेसिक कॉन्सेप्ट्स एंड सॉल्व्ड एक्सरसाइजेज (कंप्यूटर एंड कम्युनिकेशन साइंस) बाय गिल्डा अवोइन एंड फिलिपे ओईचलिं (Computer system security- basic concepts and solved exercises (computer and communication science) by Gilda’s Avoine and Philippe Oechslin)
  • कंप्यूटर सिक्योरिटी बाय डाइटर गोलमन (Computer security by Dieter Gollmann)
  • द वेब एप्लीकेशन हैकर्स हैंडबुक- फाइंडिंग एंड एक्सप्लोइटिंग सिक्योरिटी फ्लोर्स बाय डेविड स्टुअर्ट एंड मार्कस पिंटो (The web application hacker’s handbook- finding and exploiting security flaws by Dafydd Staurt and Marcus Pinto)
  • सीआइएसएसपी (आइएससी)2 सर्टिफाइड इनफॉरमेशन सिस्टम्स सिक्योरिटी प्रोफेशनल ऑफिशियल स्टडी गाइड बाय जेम्स एंड स्टीवर्ट एंड माइक चप्पल (CISSP (ISC)2 certified information systems security professional official study guide by James and Stewart and Mike Chappell)

साइबर सिक्योरिटी कोर्स के बाद कैरियर संभावनाएं (Career Opportunities after Cyber Security Course)

साइबर सिक्योरिटी कोर्स करने के बाद कैंडिडेट को किसी भी अच्छी जगह पर काम करने का चांस मिल जाता है क्योंकि आज के समय में हर जगह साइबर सिक्योरिटी एक्सपर्ट की डिमांड तेजी के साथ बढ़ रही है और इसीलिए कैंडिडेट को आईटी कंपनियों, इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी डिपार्टमेंट, बैंकिंग, टेलीकॉम सेक्टर, ऑनलाइन पेमेंट एप इत्यादि में जॉब मिल जाती है।

साइबर सिक्योरिटी कोर्स के बाद वेतन (Salary after Cyber Security Course)

साइबर सिक्योरिटी कोर्स ऐसा कोर्स है जिसको अगर कोई कैंडिडेट कर लेता है तो उसे नौकरी के शुरू में ही काफी अच्छा सैलरी पैकेज मिल जाता है जो कि तकरीबन 25 हजार से लेकर 40 हजार तक का हो सकता है। जब कैंडिडेट को इस क्षेत्र में काम करते हुए एक्सपीरियंस हो जाता है तो उसके बाद उसके सैलरी भी बढ़ जाती है जो कि लाखों रुपए तक भी हो सकती है।

निष्कर्ष

इस पोस्ट के माध्यम से हमने आपको बताया कि साइबर सिक्योरिटी कोर्स क्या है Cyber Security Course कैसे करें? What is Cyber ​​Security Course in Hindi? How to do Cyber ​​Security Course in Hindi? Cyber Security Course in Hindi full information? और इससे जुड़ी हुई सभी महत्वपूर्ण बातें बताएं जैसे कि-

  • साइबर सिक्योरिटी कोर्स क्या है (what is cyber security course in Hindi)
  • फेमस साइबर सिक्योरिटी कोर्स (famous cyber security course)
  • साइबर सिक्योरिटी कोर्स के लिए प्रवेश परीक्षा (entrance exam for cyber security course)
  • साइबर सिक्योरिटी कोर्स करने के लिए योग्यता (eligibility for cyber security course)
  • साइबर सिक्योरिटी कोर्स की फीस (cyber security course fees)
  • सिक्योरिटी कोर्स सिलेबस (cyber security course syllabus)
  • भारत में साइबर सिक्योरिटी कोर्स के लिए कॉलेज (cyber security course college in India)
  • साइबर सिक्योरिटी कोर्स की किताबें (books and study materials)
  • साइबर सिक्योरिटी कोर्स के बाद कैरियर संभावनाएं (career opportunities after cyber security course)
  • साइबर सिक्योरिटी कोर्स के बाद वेतन (salary after cyber security course)

class ke and me kuch questions bhi deakh lete h

Q: साइबर सिक्योरिटी कोर्स कैसे करें?

Ans: साइबर सिक्योरिटी कोर्स करने के लिए कैंडिडेट को एंट्रेंस एग्जाम को क्लियर करना होगा और उसके बाद वह किसी भी सरकारी कॉलेज में दाखिला ले सकता है। इसके अलावा अगर कैंडिडेट प्रवेश परीक्षा में असफल हो जाता है तो तब वह किसी निजी संस्थान में भी एडमिशन लेकर साइबर सिक्योरिटी कोर्स कर सकता है।

Q: साइबर क्राइम क्या होते हैं?

Ans: ऐसे क्राइम जो डिजिटल दुनिया में ऑनलाइन किए जाते हैं उन्हें साइबर क्राइम कहा जाता है और इन अपराधों को रोकने के लिए साइबर सिक्योरिटी कोर्स अभ्यर्थियों को करवाए जाते हैं।

Q: साइबर सिक्योरिटी कोर्स के बाद छात्र को कहां नौकरी मिल सकती है?

Ans: जो कैंडिडेट साइबर सिक्योरिटी कोर्स पूरा कर लेते हैं उन्हें डिजिटल फील्ड में अनेकों प्रकार की नौकरियां मिल जाती हैं जैसे कि इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी संस्थान, टेलीकॉम कंपनियां इत्यादि।

Ummeed hai aapko hamari iss class mein jo bhi bataya gaya h, wo poori tarah se samjh mein aaya hoga…. Yadi haan toh hamari aage aane wali classes ko bhi join kare Aur apna feed…..Dhanyawaad.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *